जानिए आखिर क्या होती है सेक्स सेरोगेसी थैरेपी, कई लोग इसके नाम से भी है अनजान - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

19 June 2020

जानिए आखिर क्या होती है सेक्स सेरोगेसी थैरेपी, कई लोग इसके नाम से भी है अनजान

आज के समय में ज्यादातर समस्याओं का इलाज ईजाद हो चुका है। इन्हीं में से सेक्स सेरोगेट्स थैरेपी को लेकर भी पिछले कुछ वक्त से काफी चर्चा हो रही है। मेडिकल इंडस्ट्री में भी हाल ही में इसके जरिए इलाज करना शुरू किया गया है, इसलिए शायद कम ही लोग अभी ऐसे होंगे जिन्होंने इस थैरेपी का नाम भी सुना होगा। इस सेक्स सेरोगेट्स थैरेपी से उन लोगों को उभारने का काम किया जाता है जिसके सेक्स से संबंधित एक्सपीरियंस बहुत बुरे रहे हैं या फिर कोई सेक्शुअल समस्या है। हालांकि, आपको यह भी बता दें कि इस थैरेपी का प्रॉस्टियूशन से किसी भी तरह का कोई लेना-देना नहीं होता। शुरुआत में कई लोगों को इस थैरेपी के बारे में गलतफहमी हो जाती है।
क्या है सेक्स सेरोगेट्स थैरेपी
इन दिनों यह थैरेपी एक विवाद का कारण बनी हुई है। इस थैरेपी की जरूरत खासतौर पर पुरुषों को होती हैं। इसके उन्हें इंडिविजुअल काउंसिल किया जाता है। इस थैरेपी से उन पुरुषों का इलाज किया जाता है जो इरेक्टाइल डिसफंक्शन से पीड़ित होते हैं। या फिर जिन्हें इंटीमेसी के दौरान परेशानी होती है। गौरतलब है कि, इस थैरेपी को देने वाले सेक्स सेरोगेट्स न तो कोई प्रोस्टिट्यूट वर्कर होते हैं और न ही इनकी कोई एडवरटाइमेंट्स होती है।
इनके पास जाने के लिए साइकोलॉजिस्ट की ही रेफर करते हैं। अगर किसी भी शख्स को इंटीमेसी से जुड़ी परेशानियों का समाधान नहीं मिल पाता तो वह साइकोलॉजिस्ट के पास जाते हैं, लेकिन वह पेशेंट को सेक्स सेरोगेट्स थैरेपी की सलाह देते हैं।
कैसे होता है ये सेशन
सेक्स सेरोगेट सेशन को शुरू करने के लिए पहले पेशेंट के साथ बहुत सारी बातें की जाती हैं। इसके बाद कई बार उसे सिंपल टच भी दिया जाता है। कई मामलों में तो क्लाइंट को मास्टरबेट करने के लिए भी कहते हैं, ताकि इस बात का पता लगाया जा सके कि आखिर उन्हें गलती कहां हो रही है। इस थैरेपी के आखिरी पड़ाव में पेशेंट के साथ शारीरिक संबंध तक बनाए जाते हैं।
कहां लीगल है ये थैरेपी
कहा जा रहा है कि इजराइल जैसे कुछ देशों में यह थैरेपी लीगल हैं। वहीं दूसरी ओर ऑस्ट्रेलिया और कई अन्य देशों में यह थैरेपी चोरी छिपे चल रही हैं। क्योंकि वहां यह विवाद का मुद्दा बनी हुई है। जबकि भारत की बात करें तो सेक्स सेरोगेट्स थैरेपी को यहां शुरू होने में काफी संदेह दिखाई दे रहा है।

No comments:

Post a Comment