जानिए भारतीय क्रिकेटरों को हर साल सैलरी के तौर पर कितने पैसे मिलते है ? - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Thursday, November 11, 2021

जानिए भारतीय क्रिकेटरों को हर साल सैलरी के तौर पर कितने पैसे मिलते है ?

  

भारत की युवा पीढ़ी खेलों की तरफ बहुत तेजी से आकर्षित हो रही हैं यही कारण है कि आजकल स्पोर्ट्स फील्ड में कंपीटिशन बहुत बढ़ गया है। खासतौर पर क्रिकेट में हर साल नए-नए प्रतिभावान खिलाड़ी निकल कर सामने आ रहे हैं। वैसे एक सफल क्रिकेटर बनने के लिए बहुत ज्यादा मेहनत और लगन की आवश्यकता होती हैं। परंतु कामयाब होने के बाद इस फील्ड में पैसे की भी कोई कमी नहीं है।

आप ये जरूर जानते होंगे कि क्रिकेट खिलाड़ी कमाई के मामले में बाकी स्पोर्ट्स के खिलाड़ियों से बहुत ज्यादा आगे हैं। लेकिन अब तक आप इस चीज का सिर्फ अनुमान लगाते आए होंगे कि क्रिकेट में खिलाड़ियों को इतना पैसा मिलता है। आज हम आपको क्रिकेट खिलाड़ियों की सटीक सैलरी के बारे में बता रहे हैं। बता दें कि खिलाड़ियों को चार श्रेणियों में बांटा गया है उसी के आधार पर BCCI इन खिलाड़ियों की सैलरी निर्धारित करती है।

A+ ग्रेड में आने वाले खिलाड़ियों की सैलरी :

इस श्रेणी में वे खिलाड़ी आते हैं जिनकी सैलरी सबसे ज्यादा है। नया कॉन्ट्रैक्ट 8 मार्च 2019 से लागू कर दिया गया है जिसके तहत वर्तमान में इस समय ए प्लस ग्रेड में भारत के तीन ही खिलाड़ी शामिल हैं। एक है कप्तान विराट कोहली, दूसरे हैं जसप्रीत बुमराह जबकि तीसरे नंबर पर रोहित शर्मा का नाम शामिल है। बता दें कि इन खिलाड़ियों को उनके प्रदर्शन के हिसाब से इन श्रेणियों में डिवाइड किया जाता है और इसमें समय समय पर बदलाव भी होता रहता है।

चूँकि इस समय वन-डे मैचों में विराट कोहली और जसप्रीत बुमराह अपने अपने क्षेत्र में टॉप पर हैं इसलिए उनको A+ ग्रेड में जगह दी गई है जबकि रोहित शर्मा की भी टीम में अहम भूमिका है। अगर सैलरी की बात करें तो बीसीसीआई द्वारा A+ ग्रेड में आने वाले खिलाड़ियों को हर साल 7 करोड़ रुपये दिए जाते हैं।

A ग्रेड खिलाड़ियों की सैलरी :

इस श्रेड़ी कुल 11 भारतीय खिलाड़ियों को रखा गया जिसमे महेंद्र सिंह धोनी, रविचंद्रन अश्विन, रविंद्र जडेजा, अजिंक्य रहाणे, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, कुलदीप यादव, चेतेश्वर पुजारा, शिखर धवन, ऋषभ पंत और इशांत शर्मा शामिल हैं। इन सभी खिलाड़ियों को BCCI से सैलरी के तौर पर सालाना 5 करोड़ रुपये मिलते है।

B ग्रेड के खिलाड़ियों की सूची :

बी ग्रेड में चार खिलाड़ियों के नाम आते हैं जो है केएल राहुल, युजवेंद्र चहल, हार्दिक पंड्या, और उमेश यादव। इनमें से उमेश यादव को छोड़कर बाकी तीनों खिलाड़ी वर्ल्ड कप 2019 की टीम का हिस्सा हैं। उमेश यादव इस बार वर्ल्ड कप टीम में अपनी जगह नहीं बना पाये परंतु सभी को सैलरी एक जैसी मिलती है। इस श्रेणी वाले खिलाड़ियों की तनख्वाह 3 करोड़ होती है।

C ग्रेड वाले खिलाड़ियों की सैलरी :

सी ग्रेड में जो खिलाड़ी होते हैं उनकी सैलरी सबसे कम होती है। इस लिस्ट में 7 खिलाड़ी को शामिल किया गया है उनके नाम हैं केदार जाधव, दिनेश कार्तिक, अंबाती रायडू, हनुमा विहारी, मनीष पांडे, खलील अहमद और रिद्धिमान शाह। सी ग्रेड वाले खिलाड़ियों को 1 करोड़ रुपये वार्षिक मिलते हैं।

विज्ञापन के जरिए भी होती है करोड़ों की कमाई :

सालाना रिटेनरशिप के अलावा भी खिलाड़ियों को कई अन्य तरह की फीस दी जाती है इनमें हर टेस्ट मैच, हर वनडे और हर टी-20 मैच के लिए अलग पैसा मिलता है। प्रत्येक टेस्ट मैच के लिए हर खिलाड़ी को 15 लाख रुपये, वनडे के लिए 6 लाख जबकि टी-20 मैच के लिए 3 लाख रुपये बीसीसीआई देती है।

इसके अलावा मैच में अच्छा प्रदर्शन करने पर भी खिलाड़ियों को मैन ऑफ द मैच, मैन ऑफ द सिरीज जैसे पुरस्कार मिलते हैं जिनमें अच्छी-खासी पुरस्कार राशि होती है। आईपीएल के आने के बाद भी खिलाड़ियों की कमाई में इजाफा हुआ है। जबकि विज्ञापन भी खिलाड़ियों की कमाई का एक अहम हिस्सा हैं। धोनी और विराट कोहली जैसे बड़े खिलाड़ी एक विज्ञापन के लिए करोड़ों की फीस लेते हैं।

No comments:

Post a Comment