भारत के पांच सबसे भूतिया स्टेशन जहां हमेशा रहता हैं भूतों का साया - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Wednesday, October 27, 2021

भारत के पांच सबसे भूतिया स्टेशन जहां हमेशा रहता हैं भूतों का साया

 


naini

क्या आपने कभी किसी रेलवे स्टेशन पर कुछ अलग सा महसूस किया है। या फिर ऐसा लगा है कोई आपके साथ और भी यात्रा कर रहा है या फिर ऐसा लगा हो आप ट्रेन का इंतजार कर रहे हो और ट्रेन की आवाज आने से पहले कुछ डरावनी आवाजें आपको सुनायी दे।


अभी तक आपने सिर्फ सुना होगा कि भूत-प्रेत या पिशाच आत्मायें सिर्फ श्मशान घाट या कब्रिस्तान और सुनसान महलों में पायी जाती है और वही घूमती रहती है। अगर कोई उनकी अनुमति के बिना वहाँ जाता है तो यह प्रेत आत्माये उसे परेशान करती हैं। यहां तक कि उसकी जान भी ले लेती है। यह बातें आपने अपने दादा-दादी के मुँह से सुने होगी या हो सकता आपने भी कभी महसूस किया हो। लेकिनकभी आपने सोचा है रेलवे स्टेशन जैसी व्यस्त भरी जगह पर भूत-प्रेत हो सकते हैंजी हां आज हम आपको ऐसे ही कुछ भूतिया स्टेशनों के बारे में बतायेंगे जहाँ अक्सर यात्रियों ने अतृप्त आत्माओं को देखा है या फिर महसूस किया है।

1- लुधियाना रेलवे स्टेशन
लुधियाना रेलवे स्टेशन पंजाब का सबसे मुख्य जंक्शन है और रोज के लाखों यात्री यहाँ से यात्रा करते हैं। यहाँ के रेलवे ऑफिस में एक सुभाष नाम का व्यक्ति कार्य करता था। उसके साथ काम करने वाले कर्मचारी बताते हैं कि वह अपने कार्य को लेकर हमेशा जागरुक रहता था और उसे अपनी पोस्ट से बहुत लगाव था।.
अचानक एक दिन सुभाष की मृत्यु हो गयी। उसके बाद जो भी अफसर उसकी पोस्ट पर आया वो या तो पागल हो गया या फिर वँहा से जान बचा के भाग गया। क्योंकि सुभाष की आत्मा अभी भी उसी कमरे में घूमती रहती है और वह नहीं चाहती कि कोई और उसकी पोस्ट पर आये इसीलिये वहाँ के रेलवे अधिकारियों ने सुभाष के केबिन को हमेशा के लिये बंद कर दिया है। हालाँकि रात को स्टेशन पर रहने वाले लोगों का कहना है कि आज भी सुभाष रात को घूमता हुआ नजर आ जाता है।
ludhiana

2- बेगुनकोडोर रेलवे स्टेशन-
पश्चिमी बंगाल का एकमात्र ऐसा रेलवे स्टेशन जहाँ 1968 के बाद से एक भी ट्रेन नहीं रुकती है। जी हां 49 साल गुजर जाने के बाद भी इस स्टेशन पर एक भी गाड़ी का ठहराव नहीं है। एक रेलवे कर्मचारी के मुताबिक 1968 में उनके विभाग के एक कर्मचारी ने सफेद साड़ी में एक महिला को देखा और उसे देखने के बाद में कर्मचारी की मौत हो गयी।
उसके बाद लगातार यह औरत सफेद साड़ी पहन स्टेशन पर नाचती ही नजर आती है और जब कोई रेल इस स्टेशन से गुजरती है तो यह आत्मा उसके साथ दौड़ती है इसलिये लोगों ने यहाँ पर आना छोड़ दिया है। रेलवे विभाग ने इस स्टेशन को संवेदनशील मानते हुए बंद कर दिया है। 
Begunkodor-

3- एम जी रोड मेट्रो स्टेशन गुरुग्राम-

यह देश का पहला भूतिया मेट्रो स्टेशन है। लोगों का कहना है कि लगभग 40 वर्षीय महिला का बच्चा स्टेशन पर खो गया था और अचानक बच्चे को ढूंढते-ढूंढते यह महिला मेट्रो ट्रेन के नीचे आ गयी थी।.
तब से इस औरत की आत्मा यहां पर खुले बालों में बदहवास हालत में घूमती हुयी नजर आती है। सबसे चौंकाने वाली बात यह है कि जिस किसी को ये आत्मा दिखती है। उसे सिर्फ मेट्रो ट्रेन के शीशे में ही नजर आती है।
mg%2Broad



4- नैनी स्टेशन उत्तर प्रदेश-
उत्तर प्रदेश के नैनी शहर के स्टेशन पर एक नहीं हजारों आत्माएं नजर आती है। हालाँकि ये आत्मायें किसी को नुकसान नहीं पहुंचाती है। लोगों को कहना है इस स्टेशन के पास अंग्रेजों के जमाने की जेल है।

जहाँ पर कई भारतीय सैनिकों को यातनायें देकर मार दिया गया था। इन सैनिकों की अतृप्त आत्मायें ही स्टेशन पर घूमती हुई नजर आती है। अक्सर रात में सफर करने वाले लोगों ने उनकी बातों को सुना है। ये सैनिक पुलिस स्टेशन पर घूमते हुये नजर आते हैं और कभी कभी किसी रूप में मदद भी करते दिखायी देते हैं। इनकी आत्मायें किसी को नुकसान नहीं पहुँचाती है।
naini


5- रविंद्र सरोवर मेट्रो स्टेशन-

कोलकाता का सबसे व्यस्त मेट्रो स्टेशन जँहा चाहे दिन हो या रात लोगों की भीड़ आपको देखने को मिल जायेगी। यह भारत के सबसे भूतिया स्टेशन में गिना चाहता है। यहां अक्सर ऐसी अतृप्त आत्मा घूमती है जिन्होंने इस स्टेशन के ट्रैक पर आत्महत्या की है। और अक्सर यहाँ पर लोग आत्महत्या करने आते हैं।

इसी वजह से लोगों को रात में डरावनी आवाज सुनायी देती है। किसी-किसी को तो बहुत खौफनाक हालत में देखा जाता है। आत्माओं की संख्या बहुत ज्यादा होने के कारण यहाँ के रेलवे विभाग ने सबसे आखिरी प्लेटफार्म को बंद कर दिया है। यहां पूरी रात रेलवे पुलिस के लगभग 10 जवान तैनात रहते हैं फिर भी रात में सफर करने वाले लोगों को इन आत्माओं का एहसास होता है और ये आत्मायें उन्हें परेशान भी करती है तो कभी-कभी नुकसान पहुंचाने की कोशिश भी करती है।
ravinrd

No comments:

Post a Comment