कौन है गाजा में हमास चीफ याह्या सिनवार? इजरायल ने जिसका घर किया जमींदोज - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Monday, May 17, 2021

कौन है गाजा में हमास चीफ याह्या सिनवार? इजरायल ने जिसका घर किया जमींदोज

 


इजरायली सेना की ओर से फिलीस्‍तीन पर तोबड़तोड़ महले जारी है । रविवार को देश की गाजा पट्टी शहर में जोरदार मिसाइल हमला कर हमास के राजनीतिक शाखा के प्रमुख याह्या सिनवार के घर को उड़ा दिया गया । याह्या सिनवार गाजा में फिलीस्‍तीनी उग्रवादी संगठन हमास का सबसे बड़ा नेता है । इजरायली सेना के प्रवक्ता ब्रिगेडियर जनरल हिदाई जिल्बरमैन की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार सिनवार अपने समूह के अन्‍य नेताओं के साथ संभवत: इस घर में छिपा हुआ था। सिनवार पर इजरायली सैनिकों के अपहरण और उनकी हत्‍या करने समेत कई गंभीर आरोप हैं।

कौन है याह्या सिनवार?
हालांकि इस इजरायली हमले में याह्या सिनवार मारा गया या बच गया, अभी इसकी पुष्टि नहीं हो सकी है। आपको बता दें, साल 2015 में याह्या को अमेरिका ने आतंकी घोषित किया था । याह्या ने फरवरी 2017 में हमास नेता इस्‍माइल हनियेह से राजनीतिक शाखा के प्रमुख का पदभार लिया था। उसने हमास के सुरक्षा घेरे में काम करते हुए काफी पहचान बना ली थी । याह्या हमास के सहसंस्‍थापकों में से एक है। सिनवार की इजरायल को लंबे समय से तलाश है।

22 साल तक इजरायल की जेल में बंद था याह्या
सिनवार ने साल 1988 में कथित रूप से दो इजरायली सैनिकों का अपहरण करके उनकी हत्‍या कर दी थी, जिसके बाद उसे इजरायल ने अरेस्‍ट किया था । सुनवाई के बाद याह्या को सजा सुनाई गई थी। जिसके तहत सिनवार करीब 22 साल तक इजरायल की एक जेल में बंद रहा लेकिन साल 2011 में कैदियों की अदला-बदली में उसे भी छोड़ दिया गया और गाजा जाने दिया गया।  दरअसल, हमास ने इजरायल के सैनिक गिलाड शलित का अपहरण कर लिया था और उसके बदले में उसने सिनवार की रिहाई की शर्त रखी थी।

इजरायल के साथ कोई समझौता नहीं चाहता सिनवार
हमास के नेताओं में याह्या सिनवार को बेहद कट्टरपंथी विचारधारा का माना जाता है। सिनवार ने इजरायल के साथ किसी भी शांति प्रक्रिया को खारिज कर दिया है। इजरायल ने भी सिनवार के साथ किसी भी बातचीत से मना कर दिया है। दरअसल, सिनवार ने करीब 20 साल की उम्र से ही इजरायल का विरोध करना शुरू कर दिया था। उसी ने हमास के नियंत्रण वाले गाजा शहर में प्रशासनिक कमिटी बनाई थी और हमास के उग्रवादियों से खुलेआम इजरायल के और ज्‍यादा सैनिकों को पकड़ने के लिए कहा था।

शहादत मंजूर, दमन नहीं
याह्या सिनवार ने एक बार कहा था, ‘हम शहीद के रूप में मरना पसंद करेंगे लेकिन दमन और अपमान सहन करके नहीं….हम मरने के लिए तैयार हैं और हमारे साथ हजारों की तादाद में लोग मरने को तैयार हैं।’ ऐसा माना जाता है कि उसी के कहने पर गाजा के बड़ी संख्‍या में लोगों ने इजरायल से अलग करने वाली बाड़ के पास जोरदार प्रदर्शन किया था । मार्च 2021 में उसे एक बार फिर से हमास का नेता चुना गया था । उसने पिछले साल ही इजरायल को युद्ध की धमकी दी थी। बताया जाता है कि उसके ईरान के साथ करीबी संबंध है।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment