सानिया मिर्जा ने बयां किया 13 साल पुराना दर्द, ‘कभी भी आंखों से आ जाते थे आंसू-टूट गई थी मैं’ - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Thursday, May 13, 2021

सानिया मिर्जा ने बयां किया 13 साल पुराना दर्द, ‘कभी भी आंखों से आ जाते थे आंसू-टूट गई थी मैं’

 


भारत की टेनिस सनसनी सानिया मिर्जा ने हाल ही में अपनी जिंदगी के उस दौर से जुड़ी कुछ ऐसी बातें साझा की हैं, जिसे सुनकर उनके फैंस चौंक जाएंगे । 6 बार की युगल ग्रैंड स्लैम विजेता सानिया मिर्जा, कलाई की चोट के कारण करीब एक साल तक कोर्ट से दूर रहीं थीं । इस दौर के बारे में बात करते हुए उन्‍होंने एक इंटरव्यू में कहा, ‘कलाई की चोट के कारण बीजिंग ओलंपिक 2008 से बाहर होने के बाद मैं करीब 3-4 महीने तक डिप्रेशन में थी. मैं बिल्कुल ठीक हुआ करती थी और फिर मेरे आंखों में आंसू आ जाते थे.’


कमरे में बंद हो गई थी मैं
सानिया मिर्जा ने इस बारे में बात करते हुए कहा, मुझे याद है कि मैं एक महीने तक खाना खाने के लिए भी बाहर नहीं आई थी । मुझे लगा कि अब मैं दोबारा टेनिस नहीं खेल पाऊंगी । मैं आपे से बाहर थी, इसलिए मेरे लिए अपनी शर्तों पर कुछ नहीं कर पाना बहुत मुश्किल था। मेरे लिए ये समझना मुश्किल था कि मैं अब क्‍या करूंगी । सानिया मिर्जा ने कहा, ’20 साल की खिलाड़ी के लिए यह बहुत बड़ा झटका था । मेरी कलाई की चोट गंभीर थी और मैं वापसी करने में सक्षम नहीं थी । मैं पूरी तरह से टूट गई थी।’
देश का मान गिराने का एहसास
सानिया मिर्जा ने आगे कहा, ‘इसके बाद मेरी सर्जरी हुई और तब और ज्यादा बुरा लगने लगा जब मुझे लगा कि मैंने खुद को अपने परिवार को नीचे दिखाया है । मुझे लगा कि मैंने अपने देश का मान गिराया है क्योंकि मैं ओलंपिक से बाहर हो गई हूं। सानिया ने आगे कहा-  ‘मेरे परिवार ने मुझे सही दिशा में पहुंचने में मदद की । मैं 6-8 महीने तक टेनिस खेलने नहीं उतरी । लेकिन उसके बाद मैंने वापसी की और उस साल भारत में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में मैंने दो पदक जीते ।
सानिया ने कहा कि इससे पता चलता है कि अगर आप मानसिक रूप से सही होते हैं तो आपका परिवार आपकी मदद करता है । आपको बता दें सानिया एशियन गेम्स, कॉमनवेल्थ गेम्स और एफ्रो-एशियन गेम्स में कुल 14 मेडल जीते हैं, इसके अलावा वह 6 ग्रैंड स्लैम भी जीत चुकी हैं ।
आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment