कौन हैं IPS प्रेम प्रकाश? जिन्‍हें सौंपी गई है मुख्‍तार अंसारी को बांदा जेल लाने की जिम्‍मेदारी - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Tuesday, April 6, 2021

कौन हैं IPS प्रेम प्रकाश? जिन्‍हें सौंपी गई है मुख्‍तार अंसारी को बांदा जेल लाने की जिम्‍मेदारी

कौन हैं IPS प्रेम प्रकाश? जिन्‍हें सौंपी गई है मुख्‍तार अंसारी को बांदा जेल लाने की जिम्‍मेदारी

 पूर्वांचल के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को पंजाब से यूपी लाने का काउंटडाउन शुरू हो गया है । मुख्तार को उत्तर प्रदेश की बांदा जेल लाने की जिम्मेदारी प्रशासन ने तेजतर्रार आईपीएस अफसर और एडीजी प्रयागराज जोन प्रेमप्रकाश को सौंपी है । IPS प्रेम प्रकाश के नेतृत्व में गठित टीम सोमवार सुबह पंजाब के लिए रवाना हो गई, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद कुख्यात अपराधी मुख्तार को पंजाब से यूपी लाया जाएगा ।

क्‍यों दी गई प्रेम प्रकाश को जिम्मेदारी?
IPS प्रेम प्रकाश यूपी पुलिस के तेजतर्रार अफसरों में टॉप पर आते हैं, उनकी पुलिस महकमे में अलग ही पहचान है । उनके कड़क तेवर से सिर्फ बदमाश ही नहीं लापरवाह पुलिसकर्मी भी कांपते हैं । दिल्ली के रहने वाले प्रेम प्रकाश 1993 बैच के आईपीएस अफसर हैं, बीटेक करने के बाद वो पुलिस मैनेजमेंट में भी एमडी का कोर्स कर चुके हैं । तेजतर्रार आईपीएस प्रेमप्रकाश लखनऊ, आगरा, मुरादाबाद, एनसीआर समेत कई जिलों में कप्तान रह चुके हैं ।

सख्‍त और ईमानदार छवि के अफसर
बेसिक पुलिसिंग में महारत रखने वाले एडीजी प्रेम प्रकाश विभाग में अपने सख्त रवैये के लिये जाने जाते हैं । बिना किसी दबाव के फैसले लेने में वो हमेशा आगे रहते हैं, जिस काम का जिम्‍मा उठा लिया फिर उसके पूरा करके ही बैठते हैं । आईपीएस प्रेम प्रकाश की साफ और ईमानदार छवि की वजह से ही यूपी की योगी सरकार ने उनको मुख्तार को लाने की जिम्मेदारी सौंपी है ।

कई अपराधियों ने डर से किया सरेंडर
कानपुर में एडीजी रहते हुए आईपीएस प्रेम प्रकाश ने पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक कर अपराधियों के खिलाफ अभियान शुरू किया था । इस दौरान 67 अपराधियों को एनकाउंटर के गिरफ्तार कर जेल भेजा गया, वहीं अधिकारी के इस एक्‍शन से कानपुर में अपराधियों के बीच इनका खौफ इतना बढ़ गया कि कुछ जिला छोड़कर भाग गए तो कुछ ने सरेंडर ही कर दिया । एडीजी प्रेम प्रकाश कानपुर से पहले एक साल तक बरेली में तैनात रहे थे । बेहद संवेदनशील इस क्षेत्र में उनके कार्यकाल के दौरान हर धर्म के पर्व सकुशल सम्पन्न हुए । पैदल गश्‍त करने से लेकर औचक निरीक्षण करना और लंबे समय तक दफ्तर में फरियादियों की सुनना उनकी पुलसिंग का ही एक हिस्सा है । प्रेम प्रकाश अपने स्‍टाफ का पूरा ख्‍याल रखते हैं ।

इन कामों के लिए जाने जाते हैं आईपीएस प्रेम प्रकाश
एडीजी प्रेम प्रकाश ने 12 जुलाई 2009 को लखनऊ में एसएसपी का चार्ज संभाला था, यहां पुलिसकर्मियों को ड्यूटी पर मुस्तैद रखने के लिए उन्होंने थानों में घंटे टंगवाए और संतरी को जेल की तर्ज पर हर घंटे इन्हें बजाने का आदेश जारी किया । इसके साथ ही उन्होंने पुलिस लाइन की तर्ज पर थानों में पुलिसकर्मियों की परेड भी शुरू कराई थी, तोंद वाले पुलिसकर्मी उनके निशाने पर रहते थे । वर्तमान में प्रयागराज जोन के एडीजी प्रेम प्रकाश ने कुछ समय पहले ही खास तरह की पहल की है, उन्होंने फरियादियों के लिए अपने दफ्तर में जोन के आठ जिलों का मॉडर्न हेल्पलाइन सेंटर शुरू कराया है । शिकायत करने वालों को सिर्फ एक फोन कॉल करनी होगी ।

No comments:

Post a Comment