कोरोना का प्रकोप : बढ़ते मामलों को देख कई शहरों में लगाया गया लॉकडाउन - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Saturday, April 3, 2021

कोरोना का प्रकोप : बढ़ते मामलों को देख कई शहरों में लगाया गया लॉकडाउन


एक बार फिर से पूरे देश में कोरोना(Corona )की दूसरी लहर काफी तेजी से आगे बढ़ रही है. इसके कारण देश में संक्रमित लोगों की संख्या दिन पर दिन बढ़ती जा रही है. कोरोना की पहली लहर की अपेक्षा दूसरी लहर ज्यादा खतरनाक साबित हो रही है इतना ही नहीं दूसरे दिन पूरे देश में 450 से ज्यादा लोगों की इस संक्रमण से मौत हो गई है. कोरोना के भयानक रूप से उबरने के लिए कई राज्यों में नई गाइडलाइन जारी की जा रही हैं. राज्य में आंशिक रूप से लॉकडाउन और सार्वजनिक कार्यक्रमों पर रोक लगाने का फैसला ले लिया गया है. इसके साथ ही कुछ शहरों में भी लॉकडाउन लगा दिया गया है और इसके साथ नाइट कर्फ्यू को पहले से ही जारी कर दिया गया था.

पुणे में बंद है हुए ये स्थान

महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा कोरोना का प्रभाव दिखाई दे रहा है. इसके चलते प्रशासन ने बार, होटल, रेस्टोरेंट को अगले 7 दिनों तक के लिए बंद करने का ऐलान कर दिया है. खाना खाने के लिए होम डिलीवरी दी जाने की सुविधा मिलेगी. इस मामले में पुणे के डिविजनल कमिश्नर सौरभ राव ने कहा कि शनिवार की रात 12 बजे से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू लगा रहेगा. सभी धार्मिक स्थल पूरी तरीके से 7 दिनों के लिए बंद कर दिए गये हैं.

एमपी के 4 जिलों में लॉकडाउन

मध्य प्रदेश सरकार ने कोरोना वायरस के बढ़े रूप को देखते हुए 4 जिलों में लॉकडाउन लगा दिया है. एमपी के बैतूल जिले में बीते दिन 10से तो वहीं खरगोन के शहरी क्षेत्रों में रात से सुबह 5 बजे तक का लॉकडाउन रहेगा. रतलाम शहर में और छिंदवाड़ा जिले में रात्रि से सुबह 6 बजे तक का लॉकडाउन और जरूरी सेवाओं को छोड़कर सारी एक्टिविटी पर पाबंदी रहेगी.

दुर्ग जिले में 14 अप्रैल तक पूर्ण लॉकडाउन

छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले मे प्रशासन ने 14 अप्रैल तक पूर्ण लॉकडाउन लगा दिया है. इस बारे में जिलाधिकारी सर्वेश्वर नरेंद्र भूरे ने बताया कि कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए संक्रमित लोगों की चेन तोड़ने के लिए यह करना बहुत जरूरी था. इसके लिए उन्होंने जनता का समर्थन मांगा है हालांकि इसमें यह साफ नहीं किया गया कि किन किन गतिविधियों को मंजूरी मिलेगी और किन गतिविधियों को बैन किया जाएगा.

उद्धव ठाकरे ने कही यह बात

कोरोना के प्रकोप को बढ़ते हुए देख बीते दिन सीएम उद्धव ठाकरे ने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि कोरोना के चलते महाराष्ट्र में लॉकडाउन लगेगा या नहीं इस बात पर अभी मैं कुछ नहीं बोलूंगा. लेकिन जो हालात हैं अगर यह ऐसे ही रहे तो इसको संभालना कठिन है,  जिसका आखिरी उपाय केवल लॉकडाउन ही है. सीएम ठाकरे ने कहा कि पूरे राज्य में 70 प्रतिशत टेस्ट आरटीपीटीसी से हो रहे हैं. बीते वर्ष मार्च में हमारे पास मरीजों के लिए बेड नहीं थे, लेकिन आज हमारे पास करीबन तीन लाख 75000 बेड्स हैं.

मुंबई में लगेंगे कई प्रतिबंध

मुंबई में बढ़ते कोरोना के मामलों को देख मेयर किशोरी पेडनेकर ने शहर में कुछ प्रतिबंध लगाने के संकेत दिए हैं. बीते दिन मुंबई में कोविड-19 के 8832 मामले सामने आए थे. ये अभी तक के यह सबसे ज्यादा एक दिन में पाए जाने वाले मामले है. बीएमसी ने बताया कि बीते दिन 20 मरीजों की मौत हुई जो कि दिसंबर 2020 के बाद सबसे ज्यादा संख्या हैं.

योगी ने यूपी के स्कूलों को किया बंद

बीते शुक्रवार को सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने सरकारी आवास पर कोर टीम (टीम-11) के साथ बढ़ रहे कोरोना संकट को लेकर मीटिंग की. इस मीटिंग में सीएम योगी के अतिरिक्त चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश कुमार खन्ना के साथ मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी तथा डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी भी अन्य अधिकारियों के साथ भी मौजूद रहे. मीटिंग के दौरान ही सीएम योगी ने स्कूलों को बंद करने का निर्देश दिया, इसी के साथ ये भी कहा कि शिक्षकों के लिए स्कूलों में तालाबंदी नहीं होगी. उनकी स्कूल में उपस्थिति अनिवार्य होगी. बड़ी क्लासों के लिए सीएम योगी ने कहा कि कक्षा नौ से 12 तक की शिक्षा ग्रहण कर रहे बच्चों के स्कूल में आगमन के दौरान स्कूलों में कोविड प्रोटोकॉल का  पालन अच्छे से किया जाए, इस बात का ध्यान सभी जिलाधिकारी रखेंगे. तय नियमों का पालन ना होने पर स्कूल के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी.

No comments:

Post a Comment