पंजाब में कांग्रेस नेताओं के खिलाफ मोर्चा खोलने की तैयारी में नवजोत सिंह सिद्धू, जानिये इनसाइड स्टोरी - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Tuesday, April 20, 2021

पंजाब में कांग्रेस नेताओं के खिलाफ मोर्चा खोलने की तैयारी में नवजोत सिंह सिद्धू, जानिये इनसाइड स्टोरी


पंजाब में कांग्रेस नेताओं के खिलाफ मोर्चा खोलने की तैयारी में नवजोत सिंह सिद्धू, जानिये इनसाइड स्टोरी

 कांग्रेस की पंजाब इकाई में अभी तक पार्टी की ओर से कोई स्पष्ट भूमिका ना मिलती देख नवजोत सिंह सिद्धू अब बगावत के मूड में है, सिद्धू की ओर से अभी तक ऐसे कोई स्पष्ट संदेश तो नहीं दिये गये हैं, लेकिन उनके कुछ हालिया दौरों से ऐसा लग रहा है कि वो राज्य इकाई में नेताओं को चुनौती देने के मूड में लग रहे हैं।

राजनीतिक संदेश देने की कोशिश
एक दशक तक अपने निर्वाचन क्षेत्र अमृतसर में सक्रिय रहने के बाद सिद्धू दंपत्ति अब पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के निर्वाचन क्षेत्र पटियाला में कई बार पहुंचे, आधिकारिक तौक पर तो वो जनता पर असर डालने वाले मुद्दों को उठा रहे हैं, उन्होने ऑफिसों का उद्घाटन किया, और लोगों से मिले, राजनीतिक जानकारों का मानना है, कि सिद्धू राजनीतिक संदेश देने की कोशिश कर रहे हैं।

सीएम से दूरी
सीएम से मुलाकात के बावजूद सिद्धू ने अभी तक इस बारे में कोई निर्णय नहीं लिया है, वो मंत्रिमंडल में वापस आना चाहते हैं या नहीं, कैप्टन ने सिद्धू के साथ बैठक के बाद कहा था, हम उनके जवाब का इंतजार कर रहे हैं, और आगामी चुनावों के लिये उन्हें वापस लाने की कोशिश कर रहे हैं।


अन्याय का खुलासा कर रहा
वहीं नवजोत सिंह सिद्धू का दावा है कि वो केवल ड्रग्स के शिकार लोगों के प्रति अन्याय का खुलासा करना चाहते हैं, उनका दावा है कि वो उन लोगों की मदद कर रहे हैं, जिन्हें न्याय नहीं मिला है, इस बीच उनकी पत्नी और अमृतसर की पूर्व विधायक नवजोत कौर को अकसर यादविन्द्र कॉलोनी में अपने पति के पैतृक घर पर पार्टी कार्यकर्ताओं से मिलते हुए देखा जाता है, खास बात ये है कि पटियाला (ग्रामीण) और सन्नौर निर्वाचन क्षेत्रों के दो विधानसभा क्षेत्रों में दिलचस्पी ले रही है, सिद्धू की पत्नी पंजाब लमें जाट महासभा की महिला शाखा की राज्य अध्यक्ष हैं, इसलिये उन्होने आधिकारिक तौर पर इस मंच का उपयोग दफ्तरों को खोलने और युवा नेताओं के साथ बैठकें करने के लिये चुना है।

No comments:

Post a Comment