कोरोना का प्रकोप देख रो पड़े विधायक, कहा- लाशों का ढेर लगा है, मेरी नहीं सुनी तो आत्महत्या करूंगा - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Saturday, April 17, 2021

कोरोना का प्रकोप देख रो पड़े विधायक, कहा- लाशों का ढेर लगा है, मेरी नहीं सुनी तो आत्महत्या करूंगा


कोरोना का प्रकोप देख रो पड़े विधायक, कहा- लाशों का ढेर लगा है, मेरी नहीं सुनी तो आत्महत्या करूंगा

 साल 2020 में भारत ने कोरोना वायरस से ऐसी जंगी लड़ी कि दुनिया भर ने तारीफ की, लेकिन 2021 में जब ये वायरस लौटा है तो जैसे स्थिति संभले नहीं संभल रही । लोग खौफ के साए में है, संक्रमित मरीजों के परिजन इलाज न मिल पाने से आंसू बहा रहे हैं । सरकार की बदइंतजामी दावों की पोल खोल रही है । इस बीच इंदौर के कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला अपने शहर की हालत देखकर प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में फफक-फफक कर रो पड़े । रोते हुए बाले कि मेरे शहर में लाशों का ढेर लगा हुआ है और शासन-प्रशासन कुछ नहीं कर रहा।

सरकार को दे दी चेतावनी
विधायक संजय शुक्‍ला ने कहा कि लोग आक्सीजन सिलेंडर और रेमडेसिविर इंजेक्शन के लिए बिलखते हुए दर-दर की ठोकरे खा रह हैं, लेकिन कोई उनकी नहीं सुन रहा है । उन्‍होंने कहा कि मेरा बेटा खुद संक्रमित है और वह अस्पताल में भर्ती है, इसक बाद भी में जन सेवा में लगा हूं। शुक्‍ला ने सरकार को चेतावनी दी कि अगर दो दिन के भीतर इलाज की उचित व्यवस्था नहीं हुई तो वह आत्महत्या कर लेंगे।

‘मैं आत्मदाह करूंगा और करके दिखा दूंगा’
विधायक शुक्ला मीडिया से बात करते हुए बहुत भावुक हो गए थे, उन्‍होंने कहा कि अब शासन चाहे तो मेरी जान ले ले, लेकिन मेरे शहर की जनता को सही कर दो। मेरी जनता मेरा भगवान है में उनको ऐसे बिलखते हुए नहीं देख सकता हूं। में  रात को जब बिस्तर सोने जाता हूं तो नींद नहीं आती है। वही बिलखते चेहरे दिखाई देते हैं। में उनके दुखों को दूर करने की पूरी कोशिश करता हूं, लेकिन सरकारी सिस्टम के आगे कुछ नहीं कर सकता। कभी तो मन करता है कि मर जाओ, लेकिन क्या करूं। अब सरकार और प्रशासन को कहता हूं कि दो दिन के भीतर हालात नहीं सुधरे तो वह आत्मदाह करेंगे और करके दिखा दूंगा। विधायक ने कहा कि भाजपा के लोग मुझ पर आरोप लगा रहे हैं, कह रहे हैं मैं नाटक कर रहा हूं। लेकिन मेरे शहर के रोज सैंकड़ों परिवार तबाह हो रहे हैं। परिवार के परिवार उजड़ रहे हैं। उनको यह नौटंकी लग रही है।

..जनता का दिल हार जाएंगे
विधायक संय शुक्‍ला ने कहा, मेरा खुद का 80 लोगों का परिवार है । अगर मुझे डर होता तो मैं घर से बाहर नहीं निकलता। मेरे शहर की जनता भी मेरा परिवार है, मैं कैसे सुकून से बैठ सकता हूं। नेता होने के बाद इन हालातों मैं कैसे खाना खा रहा हूं में ही जानता हूं। जब हमें ही इंजेक्शन नहीं दिए जा रहे हैं तो सोचो आम आदमी का क्या हाल होगा। आपके इस रवैये से दुखी होकर इंदौर आत्महत्या कर लेगा तो हिंदुस्तान ही नहीं पूरा विश्व आप पर थू-थू करेगा। माना की आप दमोह जीत जाएंगे, बंगाल जीत जाएंगे, लेकिन प्रदेश की जनता का दिल हार जाएंगे।


No comments:

Post a Comment