नरेन्द्र मोदी और राहुल गांधी में क्या फर्क? जानिये प्रशांत किशोर ने क्या कहा? - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Wednesday, April 14, 2021

नरेन्द्र मोदी और राहुल गांधी में क्या फर्क? जानिये प्रशांत किशोर ने क्या कहा?


नरेन्द्र मोदी और राहुल गांधी में क्या फर्क? जानिये प्रशांत किशोर ने क्या कहा?

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव में इस बार मुकाबला दिलचस्प होता दिख रहा है, जहां टीएमसी की सीधी टक्कर बीजेपी के साथ बताई जा रही है, वहीं लेफ्ट और कांग्रेस का गठबंधन भी इन दोनों को चुनौती देता दिख रहा है, इस बीत चुनाव में टीएमसी के लिये रणनीति तैयार कर रहे रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने पीएम मोदी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बीच अंतर बताया है, इतना ही नहीं एक टीवी चैनल को दिये इंटरव्यू में पीके ने बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के कुछ मजबूत पक्षों का भी जिक्र किया है।

मोदी राहुल में क्या फर्क
आजतक के शो में जब एंकर अंजना ओम कश्यप ने बीजेपी और कई अन्य विपक्षी दलों के साथ काम कर चुके प्रशांत किशोर से मोदी और राहुल गांधी में फर्क को लेकर सवाल किया गया, तो उन्होने कहा दोनों में जमीन-आसमान का फर्क है, Modi Rahulइसका बैठकर विश्लेषण करने की जरुरत है, दोनों की कार्यशैली अलग है, मोदी जी के जो काम करने का तरीका है, वो उनका सूट करता है, उनके लिये वो सफल रहा है।

अगला सवाल
जब एंकर ने पीके से पूछा कि दोनों नेता आपसे कैसे इंटरेक्ट करते हैं, तो उन्होने कहा कि कैसे इंटरेक्ट करते हैं, ये बताना मुश्किल है, लेकिन वो कुछ ठीक कर रहे होंगे, तभी जीतकर आये होंगे, prashant-kishor (1)हर मुख्यमंत्री तो प्रधानमंत्री नहीं बन पाता, अगर वो 7 साल से इस पद पर बने हुए हैं, तो कुछ तो ठीक कर रहे होंगे। राहुल गांधी पर पीके ने कहा कि मैंने उनके साथ लंबे समय तक काम नहीं किया है, राहुल गांधी पर मैं बोलूं मुझे लगता है कि ये मेरे से बहुत बड़ी बात है, मैं कौन होता हूं, राहुल गांधी पर बोलने वाला, वो सक्षम हैं अपने विषय पर बताने के लिये, उनकी बड़ी पार्टी है, 100 साल पुरानी पार्टी है, इतने बड़े-बड़े नेता हैं।

मोदी जी में सुनने की अद्भुत क्षमता
जब एंकर ने पूछा कि प्रोफेशनली दोनों नेताओं में क्या अंतर है, जो पीके बोले मोदी जी की जो ताकत है, वो एक गजब के लिस्नर हैं, यानी दूसरों को सुनने में मजबूत हैं, शायद ये मेरे देखने का नजरिया है, narendra-modiलोकतंत्र में एक सबसे बड़ी चीज है, कि आप कितना दूसरी आवाजों को सुन सकते हैं, वो काफी अच्छे से आवाजें सुनते हैं।

जमीन से जुड़ाव ममता की ताकत
ममता बनर्जी के बारे में बताते हुए प्रशांत किशोर ने कहा कि उनकी ताकत आधारभूत चीजों की उनकी समझ है, जो उनकी ऊर्जा है, जो लोगों से जुड़ने की उनकी क्षमता है, हर नेता का अपना तरीका है, abhishek mamtaजनता ने अगर उसे प्यार किया है, उसको वोट किया है, तो कुछ तो उसमें अच्छी बात होगी, उनका जो पीपुल्स कनेक्ट है, वो बहुतेरे नेताओं से अच्छा है।

No comments:

Post a Comment