कोरोना मरीज भूलकर भी ना करें ये गलती, देसी नुस्‍खा बढ़ा रहा खतरा, डॉक्‍टरों ने चेताया - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Friday, April 23, 2021

कोरोना मरीज भूलकर भी ना करें ये गलती, देसी नुस्‍खा बढ़ा रहा खतरा, डॉक्‍टरों ने चेताया

 

कोरोना मरीज भूलकर भी ना करें ये गलती, देसी नुस्‍खा बढ़ा रहा खतरा, डॉक्‍टरों ने चेताया

कोरोना वायरस संक्रमण तीव्र गति के साथ फैल रहा है, इस बार ये वायरस किसी को भी छोड़ने के मूड में नहीं लग रहा है । बीमारी से आप बस अपनी सावधानी से ही बच सकते हैं । मास्‍क का प्रयोग, बार-बार हाथों को धोना, सैनीटाइजर का प्रयोग करना ही इससे बचाव कुछ अहम और मुख्‍य तरीके है । लेकिन इनके अलावा कई और उपाय, घरेलु नुस्‍खे भी लोगों के बीच चर्चा में हैं, जिनके प्रयोग करने से कोरोना से लड़ने की बात कही जा रही है । जानें डॉक्‍टर्स इनके बारे में क्‍या कह रहे हैं ।

देसी नुस्‍खों को लेकर डॉक्‍टरों की चेतावनी
लॉन्‍ग, काली मिर्च से लेकर कपूर-अजवाइन और हल्‍दी तक, भारतीय किचन के ये सारे मसाले इन दिनों चर्चा में हैं । कोरोना से लड़ाई में इनका इस्‍तेमाल अहम बताया जा रहा है । लेकिन सच क्‍या है, दरअसल डॉक्‍टरों के मुताबिक इस बात का कोई प्रमाण नहीं है कि कपूर, लौंग या अजवाइन किसी भी तरह से मददगार हैं, या फिर ब्लड में ऑक्सीजन को बढ़ाते हैं या फिर सांस से जुड़ी समस्या ठीक करते हैं । ये सभी साइनस या फिर हल्के श्वसन संक्रमण में राहत देने का काम कर सकते हैं । इसलिए कोरोना के मामले में घरेलु नुस्‍खों पर आंख बंद कर विश्‍वास ना ही करें तो अच्छा होगा ।

भाप लेने को लेकर आई चौंकाने वाली रिसर्च
सोशल मीडिया पर ये भी दावा किया जा रहा है कि भाप लेने से कोरोना वायरस को खत्म किया जा सकता है, भाप के साथ कई तरह के प्रयोग भी किए जा रहे हैं । लेकिन हेल्थ एक्सपर्ट्स का कहना है कि इस बात का कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है । उल्‍टा ये दावा है कि कि लगातार भाप लेने से गले और फेफड़े से बीच की नली को नुकसान पहुंच सकता है जो कोरोना के लक्षणों को और गंभीर बना सकता है ।

यूनिसेफ इंडिया की ओर से दी गई जानकारी
स्‍टीम को लेकर ऐसी जानकार यूनिसेफ इंडिया की ओर से ट्विटर पर शेयर की गई है, जारी किऐ गए वीडियो में एक्सपर्ट ने बताया है कि स्टीम लेने के कई खराब परिणाम हो सकते हैं । इसके लगातार उपयोग से गले और फेफड़े से बीच की नली में टार्किया और फैरिंक्स जल सकते हैं या गंभीर रूप से डैमेज हो सकते हैं । इससे आपको सांस लेने में दिक्कत बढ़ सकती है और वायरस का शरीर में दाखिल होना और आसान हो सकता है ।

गर्म मसालों को लेकर सावधानी रखें
इसके अलावा भारतीय घरों में इन दिनों काढ़ा पिया जा रहा है, अलग-अलग तरह के मसालों का प्रयोग कर इन्‍हें बनाकर पीने के बहुत सारे लाभ गिनाए जा रहे हैं । मानना है काढ़ा पीने से शरीर में वायरस नहीं टिक पाएगा, लेकिन  आपको बता दें कि काली मिर्च, दालचीनी, जायफल और सोंठ जैसे मसाले बहुत गर्म होते हैं । इनकी ज्यादा मात्रा फायदे की बजाय बड़ा नुकसान पहुंचा सकती है । गर्मी के मौसम में इनका अत्‍यधिक सेवन पेट में जलन और मुंह में छाले पैदा कर सकता है । ऐसे में भी बहुत ध्‍यान से इन चीजों का इस्‍तेमाल करें ।

No comments:

Post a Comment