दरिंदे ने बेटी को पढाने आई टीचर को मारकर शव के साथ किया ‘गंदा काम’, पत्नी-बेटी को पहले मार चुका था! - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Monday, April 19, 2021

दरिंदे ने बेटी को पढाने आई टीचर को मारकर शव के साथ किया ‘गंदा काम’, पत्नी-बेटी को पहले मार चुका था!

 

दरिंदे ने बेटी को पढाने आई टीचर को मारकर शव के साथ किया ‘गंदा काम’, पत्नी-बेटी को पहले मार चुका था!

हफ्ते भर पहले 11 अप्रैल को जमशेदपुर में पत्नी, दो बेटियों समेत एक महिला टीचर की हत्या करने वाले आरोपी पति दीपक कुमार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, उसने पूछताछ के दौरान कई चौंकाने वाली बातें बताई है, आरोपी इतना बडा वहशी निकला कि शिक्षिका को मौत के घाट उतारने के बाद उसके शव के साथ दो बार सेक्स किया, पुलिस ने आरोपी को साइको किलर बताया है, वो हर वक्त मोबाइल पर वेब सीरीज देखता रहता है, आइये आपको हैवान की पूरी दरिंदगी बताते हैं।

परिवार को मारना नहीं चाहता था
आरोपी दीपक ने कहा कि वो अपने परिवार को मारना नहीं चाहता था, लेकिन मजबूरी में उसे ऐसा करना पड़ा, मैं तो सिर्फ अपने दोस्तों की हत्या करना चाहता था, फिर सोचा अगर उनको मारने के बाद अगर मैं जेल चला गया, arrested1तो मेरे परिवार का क्या होगा, उनका कौन ख्याल रखेगा, इसलिये पहले परिवार को खत्म किया, फिर दोस्त रौशन को मारना चाहा, लेकिन वो बच निकला, आरोपी बोला कि उसके साथ दोस्तों ने धोखा किया है, हम लोगों ने मिलकर ट्रांसपोर्ट के धंधे के लिये जो हाइवा ट्रक लिया था, उसमें लगातार घाटा लग रहा था, रोशन साथ नहीं दे रहा था।

लेडी टीचर की हत्या
आरोपित ने बताया कि परिवार को मारने के बाद जब टीचर ट्यूशन पढाने घर आई, तो उसने उसका भी कत्ल कर दिया, और फिर उसके दोनों हाथ-पैर टेप से बांध दिये, इसके बाद हैवान शव के साथ रेप करने लगा, इतने में उसका दोस्त रोशन और उसका साला आया, तो दीपक ने उन पर भी हथियार से हमला किया, लेकिन वो किसी तरह जान बचाकर भाग निकला। दीपक ने पुलिस को बताया कि वो घटना को अंजाम देने के बाद अपनी बुलेट निकाली और ओडिशा के राउरकेला चला गया, यहां कई होटलों में रुका, साथ में जो सोने के गहने लेकर आया था, उनको चार लाख में बेच दिया, फिर वो धनबाद पहुंचा, वहां लगातार अपने ठिकाने बदलता रहा, वहीं पुलिस को उसके मोबाइल लोकेशन को ट्रेस कर रही थी, जैसे पुलिस वहां पहुंचती, वो भाग जाता था।

मुखबिर ने दी सूचना
पुलिस के खबरी ने दीपक की सूचना दी, इस दौरान वो पत्नी के बेचे जेवर से मिले पैसे को भाई के बैंक खाते में जमा कराने एसबीआई के हीरापुर ब्रांच पहुंचा था, पुलिस मौके पर पहुंची और बैंक से उसे धर दबोचा। जहां उसके पास से पुलिस ने 1 लाख रुपये नकद के साथ तीन एटीएम कार्ड, पैन कार्ड और चाकू बरामद किया है। ये खौफनाक वारदात को अंजाम देने वाला आरोपी दीपक टाटा स्टील फायर बिग्रेड का कर्मचारी है, उसने दोस्तों को खत्म करने के लिये अपने हंसते-खेलते परिवार को खौफनाक तरीके से तबाह कर लिया, आरोपी ने हथौड़े से पत्नी वीणा कुमारी, दोनों बच्चियां श्रावणी, सानवी के साथ उनकी ट्यूशन टीचर रिंकू घोष की बेरहमी से हत्या कर दी, एक पिता इतना बड़ा हैवान बन गया कि मासूम बच्चियों के सिर पर हथौड़ा मारते समय भी उसका हाथ नहीं कांपा।

No comments:

Post a Comment