55 लाख की सुपारी पर इस किन्नर की हुई थी हत्या, कांट्रैक्ट किलर्स हुआ गिरफ्तार - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Sunday, April 11, 2021

55 लाख की सुपारी पर इस किन्नर की हुई थी हत्या, कांट्रैक्ट किलर्स हुआ गिरफ्तार

 


दिल्ली। अपराध और धन दोनों साथ-साथ हैं। अब किन्नरों के साथ भी धन की गला काट प्रतिस्पर्धा शुुरू हो गयी है। दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल ने इनामी कांट्रैक्ट किलर्स को गिरफ्तार किया है। इनामी कांट्रैक्ट किलर्स के द्वारा नार्थ ईस्ट दिल्ली में हुए एक किन्नर की हत्या का खुलासा हुआ है। पहले अपराधी पर 1 लाख और दूसरे पर 50 हजार का इनाम था। पूछताछ में पता चला कि किन्नरों के इलाके में वर्चस्व की लड़ाई को लेकर एक गुट के किन्नरों ने दूसरे गुट के किन्नर की हत्या के लिए 55 लाख की सुपारी दी थी। ज्ञात हो कि दिल्ली पुलिस के इंस्पेक्टर शिव कुमार और कर्मवीर की टीम ने दो वांछित कांट्रैक्ट किलर को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार गगन पंडित दिल्ली के पश्चिमी विहार का रहने वाला है। इस पर दिल्ली पुलिस ने 1 लाख का इनाम रखा हुआ था। वरुण पंडित पर 50 हजार का इनाम था। गगन और वरुण दिल्ली के जीटीबी एनक्लेव एक किन्नर की हत्या के मामले में वांछित थे। स्पेशल सेल के डीसीपी प्रमोद कुशवाहा के मुताबिक 5 सितंबर 2020 को 2 स्कूटी सवार बदमाश आमिर और गगन ने एकता जोशी नाम की किन्नर की गोली मारकर हत्या कर दी थी। किन्नर की हत्या के बाद कोहराम मच गया था।

गगन ने पूछताछ में बताया किन्नर एकता जोशी की हत्या के लिए 55 लाख रुपये की सुपारी मिली थी। हत्या को 7 लोगों ने अंजाम दिया था। गगन ही किन्नर एकता जोशी हत्याकांड का मास्टरमाइंड था। किन्नरों के एक समूह मंजूर इलाही ने गगन से संपर्क किया था और किन्नर एकता जोशी और उसकी सौतेली मां अनीता जोशी की हत्या के लिए कहा था। हत्या के लिए 55 लाख की सुपारी दी थी।


फरीदाबाद से किन्नरों के एक ग्रुप जिसे सोनम और वर्षा लीड करती हैं। जीटीबी एंक्लेव से मंजूर इलाही के साथ कमल हेड करती हैं। इन चारों किन्नरों की जीटीबी एंक्लेव में रहने वाली किन्नर एकता जोशी और उसकी सौतेली मां अनीता जोशी से दिल्ली के यमुनापार इलाके में पैसों के कलेक्शन को लेकर वर्चस्व की लड़ाई थी। दोनों इस क्षेत्र पर अपना हक जताती रही हैं। चार किन्नरों के ग्रुप ने एकता और उसकी मां को रास्ते से हटाने के लिए 55 लाख की सुपारी अपराधी गगन और उसके साथियों को दे दी।

5 सितंबर 2020 को गगन ने एकता पर छह गोलियां चलाईं थीं, जिससे एकता की मौत हो गयी थी। गगन और वरुण को दिल्ली पुलिस ने उस वक्त गिरफ्तार किया जब वो स्कार्पियो में सवार होकर किसी दूसरी वारदात को अंजाम देने की फिराक में थे। दोनों के पास हथियार और कारतूस बरामद किया गया है। गगन पर हत्या, हत्या की कोशिश, लूट के कई मामले दिल्ली और यूपी में दर्ज हैं। इस गिरफ्तारी से कई और मामलों की खुलासा होने की सम्भावना है।


No comments:

Post a Comment