बंगाल बीजेपी का बड़ा नाम बन चुकी है ममता बनर्जी की ये ‘बेटी’, कभी नक्सलियों के लिये भी काल समान! - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Thursday, March 4, 2021

बंगाल बीजेपी का बड़ा नाम बन चुकी है ममता बनर्जी की ये ‘बेटी’, कभी नक्सलियों के लिये भी काल समान!

 

बंगाल बीजेपी का बड़ा नाम बन चुकी है ममता बनर्जी की ये ‘बेटी’, कभी नक्सलियों के लिये भी काल समान!

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव हो रहे हैं, राजनीतिक दलों के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है, चुनाव के साथ ही कई चेहरे भी चर्चा में आ गये हैं, ऐसा ही एक नाम है भारती घोष, जो बंगाल बीजेपी का बड़ा नाम हैं, एक समय में आईपीएस भारती घोष प्रदेश की सीएम ममता बनर्जी की इतनी करीबी थी, कि वो उन्हें मां बुलाती थी, आइये आपको बताते हैं कि भारती घोष कौन है।

2017 में वीआरएस
भारती घोष आईपीएस महिला अधिकारी हैं, साल 2017 में उन्होने वीआरएस ले लिया, भारती को कोसोवो और बोस्निया जैसे संवेदनशील इलाकों में काम करने का अनुभव है, भारती ने हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से मैनेजमेंट की पढाई की है, साल 2011 में जब ममता बनर्जी पहली बार बंगाल की सीएम बनीं, तो उनकी नजर भारती पर पड़ी, ममता ने उन्हें सीआईडी से उठाकर पश्चिमी मिदनापुर का एसपी बना दिया, 2008 के बाद से ही ये इलाका नक्सलवादी गतिविधियों के चलते अशांत था, भारती ने बड़ी दिलेरी और सूझबूझ के साथ इलाके में शांति स्थापित करवायी।

ममता की खास
यहीं से वो सीएम ममता बनर्जी की खास बन गई, हर जगह वो ममता दीदी के साथ नजर आने लगी, टीएमसी सुप्रीमो ने जिन-जिन हिंसाग्रस्त इलाकों में भारती को भेजा, वहां वो नक्सलियों पर काल बनकर टूट पड़ी, कुख्यात माओवादी नेता कोटेश्वर राव के एनकाउंटर का श्रेय भी भारती को ही जाता है। आईपीएस पर तब विपक्षी दल के लोग आरोप लगाते थे, कि वो पुलिस की कम और ममता बनर्जी की सिपाही ज्यादा लगती है, उनके इशारे पर काम करने का कई बार आरोप लग चुका है, चुनाव आयोग ने ट्रांसफर किया, लेकिन फिर भी ममता दीदी का भरोसा बना रहा।

ममता दीदी की कृपा
भारती घोष अकसर ममता बनर्जी के लिये कहती, कि वो मां हैं, वहीं ममता दीदी भी उन्हें अच्छी बच्ची बताती, लेकिन 2017 में मां-बेटी के रिश्ते में दरार पड़ गई। 2014 लोकसभा चुनाव, फिर 2016 के विधानसभा चुनाव के बाद ममता के करीबियों ने भारती पर आरोप लगाया कि उन्होने चुनाव में बीजेपी की मदद की। ममता ने उन्हें पश्चिमी मेदिनीपुर के एसपी पद से हटाकर राज्य सशस्त्र पुलिस में अधिकारी बना बैरकपुर भेजने का फैसला लिया, भारती को ये नागवार गुजरा और उन्होने नौकरी से इस्तीफा दे दिया।

बीजेपी में शामिल
2019 में भारती बीजेपी में शामिल हो गई, बीजेपी में जाने के बाद वो ममता बनर्जी पर लगातार निशाना साधती रही, भारती को बीजेपी ने प्रदेश के घाटल लोकसभा सीट से चुनावी मैदान में उतारा, हालांकि वो चुनाव हार गई, चुनाव हारने के बावजूद भारती घोष बंगाल बीजेपी का बड़ा नाम है, वो अकसर कहती हैं कि उनके पास ममता दीदी से जुड़े कई राज हैं।

No comments:

Post a Comment