2011 में वर्ल्‍ड कप खेलने वाला ये स्‍टार क्रिकेटर अब चला रहा बस, कभी सहवाग के साथ की थी बेईमानी - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Wednesday, March 3, 2021

2011 में वर्ल्‍ड कप खेलने वाला ये स्‍टार क्रिकेटर अब चला रहा बस, कभी सहवाग के साथ की थी बेईमानी

 

2011 में वर्ल्‍ड कप खेलने वाला ये स्‍टार क्रिकेटर अब चला रहा बस, कभी सहवाग के साथ की थी बेईमानी

श्रीलंका के पूर्व ऑफ स्पिनर सूरज रणदीप चर्चा में हैं, दरअसल उनसे जुड़ी एक खबर ने क्रिकेट प्रेमियों को निराश कर दिया है । 2011 में वर्ल्‍ड कप खेल चुका ये क्रिकेटर क्रिकेट से अलग होने के बाद अब अपना जीवन-यापन करने के लिए ऑस्ट्रेलिया में बस ड्राइवर बन गया है । सूरज रणदीप ने श्रीलंका की ओर कुल से 12 टेस्ट मैच खेले हैं, साथ ही 31 वनडे मैच भी खेले हैं । उन्‍होंने इस दौरान टेस्ट में उन्होंने 43 विकेट और वनडे में 36 विकेट लिए ।

2016 में खेला था आखिरी वनडे
सूरज रणदीव ने श्रीलंका के लिए अपना आखिरी वनडे मैच 2016 में इंग्लैंड के खिलाफ खेला था । 2010 में इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्‍यू करने वाले सूरज ऑस्ट्रेलिया में बस ड्राइविंग के अलावा एक लोकल क्लब के लिए क्रिकेट भी खेलते हैं । आपको ये जानकर हैरानी होगी कि जब भारतीय टीम ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर आई थी तो मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने उन्हें नेट बॉलर नियुक्त किया था ।

आईपीएल में भी खेले हैं रणदीव
खास बात ये कि सूरज रणदीप आईपीएल का भी हिस्सा रह चुके हैं। 2011 में सूरज आईपीएल चेन्नई सुपरकिंग्स की ओर से खेले थे । सीएसके की ओर से सूरज ने 8 मैच खेलकर कुल 6 विकेट लिए थे । इस सीजन में सीएसके की टीम चैंपियन बनी थी । वहीं 2011 विश्व कप फाइनल में भारत ने श्रीलंका को हराकर विश्व चैंपियन का खिताब जीता था, तब इस मैच में भी सूरज श्रीलंकाई टीम की ओर से खेले थे ।

सहवाग के साथ की थी चीटिंग
सूरज रणदीव ने साल 2010 में दांबुला वनडे में सहवाग के साथ बेईमानी की थी, क्रीज पर सहवाग 99 रन पर बल्लेबाजी कर रहे थे और भारतीय टीम को जीत के लिए बस एक रन की दरकार थी । सूरज ने सहवाग को शतक नहीं बनाने देने के लिए नो बॉल फेंक दी थी । हालांकि सहवाग ने इस गेंद पर भी छक्का जमाया था, लेकिन नो बॉल के कारण उनका छक्का उनके व्यक्तिगत स्कोर में नहीं जुड़ सकता । सूरज ने जानबूझकर यह नो बॉल फेंकी थी, बाद में खूद सूरज ने इसके लिए माफी भी मांगी । श्रीलंका क्रिकेट ने उन्हें इस वजह से एक मैच के लिए बैन कर दिया था और साथ ही कप्तान तिलकरत्ने दिलशान पर जर्माना लगाया था । खुद सहवाग ने 2016 में ट्वीट कर इस वाकये को याद किया था ।

No comments:

Post a Comment