New York Times चाहता है फेक न्यूज़ से निपटने के लिए Biden ‘मिनिस्टरी ऑफ़ ट्रुथ’ की शुरुआत करें - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Saturday, February 6, 2021

New York Times चाहता है फेक न्यूज़ से निपटने के लिए Biden ‘मिनिस्टरी ऑफ़ ट्रुथ’ की शुरुआत करें

 


अमेरिका में अभी सत्ता बदले हुए महीने दिन हुआ नहीं कि लिबरल समाज ऑरवेलियन सपना देखने लगा। न्यू यॉर्क टाइम्स अब जॉर्ज ऑरवेल की किताब 1984 के मिनिस्ट्री ऑफ़ ट्रुथ की तरह ही अब NYT भी अमेरिका में एक ऐसी संस्था बनवाना चाहता है जो यह सत्यापन करेगा कि सच क्या है और झूठ क्या है। यह विचार स्पष्ट रूप से काफी अपरंपरागत लगता है। NYT की रिपोर्ट के अनुसार वह एक ‘REALITY CZAR’ के नेतृत्व में मिनिस्ट्री ऑफ़ ट्रुथ की स्थापना करना चाहता जो कथित “झूठी सूचना” को नियंत्रित करे। यदि आप जॉर्ज ऑरवेल के प्रशंसक हैं, तो आप इस तरह के विचार से परिचित होंगे।

NYT अखबार ने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन के लिए “फेक न्यूज और घरेलू अतिवाद” के खिलाफ लड़ाई का नेतृत्व करने के लिए “REALITY CZAR” शब्द का इस्तेमाल किया है। NYT “विशेषज्ञों” की एक एजेंसी चाहता है जो “झूठी खबरें” फैलाने या लिबरल ब्रिगेड से हट कर विचार रखने वालों पर कोड़े बरसाये। यह सपना जॉर्ज ऑरवेल के 1984 उपन्यास द्वारा परिकल्पित ‘Ministry of Truth’ के समान ही है जिसे अक्सर लिबरल ब्रिगेड द्वारा प्रचारित किया जाता है।

ध्यान देने वाली बात यह है कि “यह उन आवाजों को चुप कराने की कोशिश है जो अमेरिकी मुख्य धारा की मीडिया से असहमत हैं। NYT के स्तंभकार Kevin Roose यह मानते हैं कि “यह डायस्टोपियन लगता है, मैं मानता हूं।” परंतु वह फिर कहते हैं कि, ” चलो इस विचार को सुना जाए, आखिरकार, यह दुनिया के सबसे पुराने लोकतंत्र की बात है। और जब मुख्यधारा की मीडिया की बात है तो यह एक सस्ती कीमत होगी।”

तो “REALITY CZAR” करेगा क्या?  Roose का कहना है कि “टिप-ऑफ-द-स्पीयर” टास्क फोर्स सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के साथ नियमित बैठकें कर सकता है।  टास्क फोर्स “संरचनात्मक परिवर्तनों” की मांग कर सकता है जो विशेष छूट के तहत लोगों की प्राइवेसी का उल्लंघन कर भी सकते हैं।

और आप जानते हैं कि जब एक बार आप दुनिया के सबसे पुराने लोकतंत्र में लोगों की गोपनीयता का उल्लंघन करना शुरू करते हैं, तो “विशेषज्ञों” को ट्विटर, फेसबुक आदि पर “ब्लैक-बॉक्स एल्गोरिदम” में झांकना शुरू कर देंगे। तब शुरू होगा सोशल मीडिया पर उन लोगों की धर पकड़ जो लिबरल ब्रिगेड से अलग सच्चाई को पेश करेंगे।

यह स्पष्ट है कि “REALITY CZAR” का विचार एकतरफा लगता है, क्योंकि जॉर्ज ऑरवेल के 1984 में मिनिस्ट्री ऑफ़ ट्रुथ का इस्तेमाल सूचना, समाचार, शिक्षा, मनोरंजन और कला के सभी रूपों को नियंत्रित करने के लिए होता है। इसका उद्देश्य पुराने ऐतिहासिक रिकॉर्ड को हटाना और नई जानकारी प्रकाशित करना है, ताकि इतिहास को बिग ब्रदर के वर्तमान घोषणाओं के अनुरूप लाया जा सके।  बता दें कि बिग ब्रदर जॉर्ज ऑरवेल के 1984 उपन्यास में एक काल्पनिक अधिनायकवादी राज्य Oceania के तानाशाह नेता है।

वर्तमान में, NYT ने अमेरिकियों के लिए सच परोसने का स्व-घोषित अधिकार ले रखा है तथा अब लिबरल ब्रिगेड के चहेते जो बाइडन अमेरिका के राष्ट्रपति हैं।  हम यह नहीं कह रहे हैं कि बाइडन बिग ब्रदर हैं, लेकिन कम से कम NYT के ओरवेलियन सपने “REALITY CZAR” की इच्छा से यही प्रतीत होता है कि वह एक मिनिस्ट्री ऑफ़ ट्रुथ चाहता है। अब यह समझना है कि आखिर क्या नियंत्रित किया जाना है? कौन से रिकॉर्ड को हटाना होगा और किन चीजों को शामिल करना होगा?

खैर, सूची लंबी हो सकती है। उदाहरण के लिए, Roose ने “सामूहिक भ्रम” के उदाहरणों में एक “आधारहीन सिद्धांत” को शामिल है, जो यह कहता है COVID-19 संकट का चीनी प्रयोगशाला में निर्माण किया गया था। यानी लिबरल ब्रिगेड चीन को कोरोना फैलाने के आरोप से मुक्त करना चहता है। इसी तरह कई क्षेत्र के नैरेटिव में बदलाव किया जा सकेगा।

परंतु यह ध्यान देने वाली बात यह है कि यह NYT कैसे तय करेगा कि वायरस चीनी लैब में निर्मित नहीं हुआ है?  कम से कम, ऑरवेल के उपन्यास में तो यह फैसला बिग ब्रदर ही करता है।

इसी तरह अन्य उदाहरण में, “REALITY CZAR” उस सामूहिक भ्रम को सही करने का निर्णय ले सकता है जिसे ट्रम्प को अमेरिकी लोगों द्वारा चुना गया था।

बल्कि,  “REALITY CZAR” लोगों को विश्वास दिलाना चाहेगा कि उन्हें रूसियों ने चुनाव में हस्तक्षेप कर उन्हें व्हाइट हाउस पहुंचाया था।

यह वास्तव में अमेरिकी इतिहास में एक watershed moment होगा कि दुनिया के सबसे पुराने लोकतंत्र के अंदर कुछ प्रभावशाली लोग एक ऑरवेलियन समाज चाहते हैं। अब यह देखना है कि आखिर ऐसा होता जब है।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment