जानें क्‍यों सिद्धार्थ रॉय कपूर की तीसरी बीवी बनने को तैयार हुईं विद्या बालन, मजेदार है Love स्टोरी - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Monday, February 1, 2021

जानें क्‍यों सिद्धार्थ रॉय कपूर की तीसरी बीवी बनने को तैयार हुईं विद्या बालन, मजेदार है Love स्टोरी

 

जानें क्‍यों सिद्धार्थ रॉय कपूर की तीसरी बीवी बनने को तैयार हुईं विद्या बालन, मजेदार है Love स्टोरी

43 साल की हो चुकीं विद्या बालन ने तब सबको चौंकाया था जब उन्‍होंने दो बार शादी कर चुके फिल्म प्रोड्यूसर सिद्धार्थ रॉय कपूर से शादी की थी । विद्या बालन अपने बिंदास एटीट्यूड की वजह से चर्चा में रहती हैं, उनकी फिल्‍में भी एकदम अलग मूड और अलग अंदाज की होती हैं । कमर्शियल  सिनेमा में रहकर भी विद्या मीनिंगफुल काम कर अभिनय के क्षेत्र में बड़ा नाम रखती है । विद्या और सिद्धार्थ रॉय कपूर के बीच कैसे हुआ प्‍यार, आगे जानते हैं ।

पहली मुलाकात और शादी
विद्या बालन और सिद्धार्थ की पहली मुलाकात फिल्म फेयर अवॉर्ड्स के दौरान हुई थी, दोनों को करण जौहर ने पहली बार मिलवाया था । पहली मुलाकात के बाद दोनों दोस्त बने और बाद में ये दोस्ती प्यार में बदल गई । इसके बाद एक दिन सिद्धार्थ रॉय कपूर ने विद्या बालन को शादी के लिए प्रपोज कर दिया। इसके बाद परिवार की रजामंदी से दोनों ने तमिल और पंजाबी रीति रिवाज से शादी कर ली।

विद्या बालन से तीसरी शादी
सिद्धार्थ रॉय कपूर ने पहली शादी अपनी बचपन की दोस्त आरती बजाज से की थी, जो ज्यादा दिनों तक चल नहीं पाई। आरती से सिद्धार्थ को एक बेटा भी है । इसके बाद उन्होंने टीवी प्रोड्यूसर कविता के साथ शादी की, लेकिन ये भी कामयाब नहीं हुई । जिसके बाद उनकी जिंदगी में आईं विद्या बालन । विद्या के मुताबिक, जब वो सिद्धार्थ के प्यार में पड़ी तो उन्‍हें पता चला कि प्यार उससे बिल्कुल डिफरेंट होता है, जैसा कि उन्‍होंने इसके बारे में सोचा था । सिद्धार्थ से प्‍यार करना मेरी सोच से भी बेहतर रहा ।

विद्या को हुआ सिद्धार्थ से सच्‍चा प्‍यार
प्‍यार के बारे में विद्या बालन ने एक इंटरव्‍यू में काफी कुछ बताया, उन्‍होंने कहा कि जब आप किसी ऐसे इंसान के साथ प्यार में होते हैं, जो आपको बिना किसी कंडीशन के एक्सेप्ट करता है तो यह आपके लिए किसी सेलिब्रेशन से कम नहीं होता। वाकई आपके लिए इससे ज्यादा खुशी की बात कुछ और नहीं हो सकती कि कोई इंसान आपको उसी रूप में पसंद करता है, जैसे कि आप हैं। बजाय इसके कि वह आपको अपने मुताबिक बदलना चाहता है। विद्या के मुताबिक, मेरा मानना है कि सच्चे प्यार में कोई कंडीशन नहीं होती, जैसा कि मैंने अपने प्यार में पाया है। यह दो अलग-अलग लोगों के साथ में ग्रो करने का प्रोसेस है। आज मेरे लिए प्यार का मतलब शेयर करना, एक्सेप्ट करना, एक-दूसरे को समझना और केयर करना है।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment