लाइन पर आया ड्रैगन ! पहली बार कबूली गलवान घाटी की खूनी झड़प, बताया कितने चीनी सैनिक मरे थे - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Friday, February 19, 2021

लाइन पर आया ड्रैगन ! पहली बार कबूली गलवान घाटी की खूनी झड़प, बताया कितने चीनी सैनिक मरे थे

 

लाइन पर आया ड्रैगन ! पहली बार कबूली गलवान घाटी की खूनी झड़प, बताया कितने चीनी सैनिक मरे थे

लद्दाख में लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल पर भारत और चीन के बीच तनाव अब कम होते नजर आ रहे है, इस बीच पहली बार चीन ने भी गलवान को लेकर सच बताया है । चीन ने पहली बार माना है कि गलवान में उसके भी सैनिक मारे गए थे । चीन की ओर से पिछले साल जून में हुई खूनी झड़प के दौरान मारे गए चार सैनिकों की जानकारी साझा की गई है । आपको बता दें इस खूनी झड़प में भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे ।

4 चीनी सैनिकों ने खोई जान
ग्लोबल टाइम्स के अनुसार, चीन के केंद्रीय सैन्य आयोग ने 
काराकोरम पर्वत पर तैनात रहे पांच चीनी सैनिकों के बलिदान को याद किया । इनके नाम थे, पीएलए शिनजियांग मिलिट्री कमांड के रेजीमेंटल कमांडर क्यूई फबाओ, चेन होंगुन, जियानगॉन्ग, जिओ सियुआन और वांग ज़ुओरन । इनमें से चार की मौत तो गलवान के खूनी झड़प के दौरान हुई थी, जबकि एक की मौत रेस्क्यू के वक्त नदी में बहने से हुई थी ।

कम है आंकड़ा
हालांकि, चीन ने गलवान घाटी में मारे गए पीएलए सैनिकों का आंकड़ा बहुत कम बताया है । बीते दिनों नॉर्दन कमांड के चीफ लेफ्टिनेंट जनरल वाईके जोशी की ओर से दी गई जानकारी में कहा गया था कि गलवान घाटी की झड़प के बाद 50 चीनी सैनिकों को वाहनों के जरिए ले जाया गया था, इस गलवान की झड़प में चीनी सेना के काफी लोग मारे गए थे । हालांकि जोशी ने ये भी कहा था कि वो सैनिक मरे थे या घायल ये कहना मुश्किल है । रूसी एजेंसी TASS के मुताबिक गलवान में 45 चीनी जवानों के मारे जाने की बात कही गई है और भारतीय सेना का अनुमान भी इसी के आसपास है ।

जून में हुई थी घटना, तनाव का माहौल
आपको बता दें पिछले साल जून महीने में पूर्वी लद्दाख में गलवान
Galwan1
 घाटी में भारत और चीनी सैनिकों के बीच हुई खूनी झड़प हुई थी, इस झड़प में 20 भारतीय जवान शहीद हो गए थे । इस घटना में चीन के भी कई सैनिक मारे गए थे लेकिन चीन ने इसे लेकर कोई आधिकारिक आंकड़ा जारी नहीं किया था । अब चीन ने माना तो है लेकिन सिर्फ 4 सैनिकों की मौत को ही स्‍वीकारा है । आपको बता दें इस घटना के बाद दोनों देशों के बीच संबंध बिगड़ गए थे ।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।


No comments:

Post a Comment