रिहाना ट्वीट विवाद: किंसान आंदोलन पर कोहली-रैना-धवन-कुंबले समेत इन क्रिकेटर्स ने भी रखी राय - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Thursday, February 4, 2021

रिहाना ट्वीट विवाद: किंसान आंदोलन पर कोहली-रैना-धवन-कुंबले समेत इन क्रिकेटर्स ने भी रखी राय


रिहाना ट्वीट विवाद: किंसान आंदोलन पर कोहली-रैना-धवन-कुंबले समेत इन क्रिकेटर्स ने भी रखी राय

 किसान आंदोलन के समर्थन में पॉप स्टार रिहाना के ट्वीट के बाद से ही सोशल मीडिया पर उनकी जमकर चर्चा हो रही है, रिहाना ट्रेंड कर रही हैं । उनके ट्वीट के बाद इसे लेकर रिएक्‍ट करने वालों की कमी नहीं रही । बॉलीवुड सेलेब्‍स ने उन्‍हें जमकर सुनाया, भारत के आंतरिक मामले में ना बोलने की नसीहत दी । इंडियन क्रिकेट टीम के क्रिकेटर्स भी पीछे नहीं रहे, कप्‍तान कोहली से लेकर कोच अनिल कुंबले तक ने अपनी प्रतिक्रिया दी ।

Gandii Baat Season 6 Download

सुरेश रैना और शिखर धवन के ट्वीट
सुरेश रैना ने ट्वीट किया – ‘एक देश के तौर पर हमारे पास आज ऐसे मुद्दे हैं जिनके समाधान की जरूरत है। ऐसे मुद्दे कल भी होंगे । लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि हम विभाजित हो जाएं और बाहरी शक्तियों का प्रयोग होने दें। हर मुद्दा सौहार्दपूर्ण और निष्पक्ष बातचीत से ही हल होगा। वहीं भारतीय क्रिकेट टीम के ओपनर शिखर धवन ने लिखा- ‘हमारे महान देश को फायदा हो ऐसे समाधान तक पहुंचना अभी सबसे जरूरी चीज है। आइए साथ खड़े रहें और एक बेहतर व चमकीले भविष्य की तरफ आगे बढ़ें।’

विराट कोहली का ट्वीट
कप्‍तान विराट कोहली ने ट्वीट किया-  ‘असहमति के इस समय में हम सभी एकजुट रहें। किसान हमारे देश का एक अभिन्न हिस्सा हैं और मुझे यकीन है कि सभी पक्षों के बीच एक सौहार्दपूर्ण समाधान मिल जाएगा ताकि शांति हो और सभी मिलकर आगे बढ़ सकें।’ विराट के अलावा भी कई दूसरे भारतीय खिलाड़ियों ने किसान आंदोलन पर अपनी प्रतिक्रियाएं दी हैं। भारतीय स्पिनर प्रज्ञान ओझा ने ट्वीट कर लिखा- ‘मुझे विश्वास है कि यह मामला जल्द ही सुलझा लिया जाएगा । हमें अपने आंतरिक मामलों में किसी बाहरी व्यक्ति के दखल की आवश्यकता नहीं है। मेरा देश हमारे किसानों पर गर्व करता है और जानता है कि वे कितना महत्वपूर्ण हैं।’

तेंदुलकर, कुंबले और शास्‍त्री के भी ट्वीट
मामले में अनिल कुंबले ने ट्वीट किया – दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के रूप में भारत अपने आंतरिक मुद्दों को सौहार्दपूर्ण समाधानों तक ले जाने में सक्षम है। सचिन तेंदुलकर ने ट्वीट कर लिखा- ‘भारत की संप्रभुता से समझौता नहीं किया जा सकता है। बाहरी ताकतें दर्शक हो सकती हैं लेकिन प्रतिभागी नहीं। भारतीय भारत को जानते हैं और भारत के लिए फैसला करना चाहिए ।आइए एक राष्ट्र के रूप में एकजुट रहें।’ टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री ने ट्वीट किया-  ‘कृषि भारतीय अर्थव्यवस्था का बहुत महत्वपूर्ण अंग है। किसान किसी भी किसी भी देश के इकोसिस्टम की रीढ़ की हड्डी हैं ।यह एक आंतरिक मामला है । मुझे पूरा भरोसा है कि यह मामला बातचीत से सुलझा लिया जाएगा।’

No comments:

Post a Comment