‘अगर वो बांग्लादेशी है तो उसे वापस भेज देना चाहिए’, अमित शाह को अब राष्ट्र को एक सख्त सन्देश की आवश्यकता है - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Monday, February 22, 2021

‘अगर वो बांग्लादेशी है तो उसे वापस भेज देना चाहिए’, अमित शाह को अब राष्ट्र को एक सख्त सन्देश की आवश्यकता है


 भाजपा के पश्चिम बंगाल में आक्रामक चुनाव प्रचार के बीच महाराष्ट्र कांग्रेस ने पार्टी पर बेहद गंभीर आरोप लगाए है। महाराष्ट्र कांग्रेस के नेताओं का दावा है कि महाराष्ट्र में बीजेपी के माइनॉरिटी सेल का अध्यक्ष बांग्लादेशी है जो फेक डॉक्यूमेंट पर भारत में रह रहा है। अगर ऐसा है तो अमित शाह को और भाजपा के शीर्ष अधिकारियों को तुरंत कार्रवाई करते हुए वापस बांग्लादेश भेज देना चाहिए।

दरअसल, महाराष्ट्र कांग्रेस के प्रवक्ता सचिन सावंत ने शनिवार को दावा किया कि भाजपा ने मुंबई में अपने अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ में एक बांग्लादेशी को नियुक्त किया था।उन्होंने कहा कि भाजपा को हर किसी को देशभक्ति का ज्ञान देने की जल्दी रहती तो क्या ऐसे में नागरिकता संशोधन अधिनियम, जो बांग्लादेश जैसे पड़ोसी देशों के गैर-मुस्लिम नागरिकों को नागरिकता प्रदान करता है, वह “पार्टी के लिए” लागू नहीं किया गया है?”

वहीं, महाराष्ट्र के गृह मंत्री  और एनसीपी नेता अनिल देशमुख ने शनिवार को कहा कि भाजपा का एक पदाधिकारी बांग्लादेशी है और फर्जी दस्तावेजों के साथ देश में रह रहा है।उन्होंने कहा कि भाजपा के उत्तरी मुंबई अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के प्रमुख रूबेल जोनु शेख ने आधार कार्ड और पैन कार्ड फर्जी तरीके से प्राप्त किया था, वही मुंबई पुलिस ने भी पाया कि पश्चिम बंगाल में 24 उत्तर परगना का पता और अपने स्कूल का विवरण उन्होंने फर्जी प्रस्तुत किया था।

इस बीच, महाराष्ट्र भाजपा के उपाध्यक्ष चित्रा वाघ ने कहा कि उनकी पार्टी शेख की ओर से किसी भी तरह के गलत काम का बचाव नहीं करेगी।

बता दें कि मुंबई पुलिस ने कुछ दिन पहले ही रुबेल शेख को गिरफ्तार किया था। वह शहर में भाजपा के उत्तरी मुंबई अल्पसंख्यक सेल के अध्यक्ष के रूप में काम कर रहा था। 24 वर्षीय रूबेल जोनु शेख अवैध दस्तावेजों के साथ भारत में रह रहा था।  पुलिस अधिकारियों के अनुसार, रुबेल शेख बांग्लादेश के जसूर जिले, बोवालिया गांव का निवासी है।  पुलिस अधिकारियों ने कहा कि शेख ने वर्ष 2011 में बिना किसी दस्तावेज के भारत में प्रवेश किया।  आरोपी ने भाजपा पार्टी के लिए काम किया और भाजपा के उत्तरी मुंबई अल्पसंख्यक सेल के अध्यक्ष बना। शेख ने दस्तावेज बनवाए थे जो नकली पाए गए।

आरोपी के घर की तलाशी के दौरान, पुलिस को मलापोटा ग्राम पंचायत का एक निवास प्रमाण पत्र, जन्म प्रमाण पत्र हंसखली और नादिया जिले का स्कूल प्रमाण पत्र मिला जो की सभी पश्चिम बंगाल में स्थित है।  शेख के साथ पुलिस अधिकारियों का एक दल उन सभी स्थानों पर गया, जिन्हें दस्तावेजों में दिखाया गया था।  सत्यापन के दौरान, पुलिस को कलेक्ट्रेट कार्यालय में कोई इतिहास नहीं होने के साथ सभी दस्तावेज फर्जी मिले।  यह पाया गया कि सभी दस्तावेज नकली और जाली थे।

एक पुलिस अधिकारी ने कहा, “जांच के दौरान, हमने यह भी पाया कि इन दस्तावेजों के आधार पर शेख ने भारतीय आधार और पैन कार्ड भी प्राप्त कर लिए थे। हम इस मामले की और जांच कर रहे हैं।”

यह किसी पार्टी के ऊपर बेहद गंभीर आरोप है। अगर यह सच  हुआ तो बीजेपी तथा अमित शाह को कार्रवाई करते हुए एक उदाहरण प्रस्तुत करना चाहिए जिससे आगे से कोई भी इस तरह से जाली दस्तावेजों के सहारे ऐसी हरकत ना करे। यह सिर्फ महाराष्ट्र की बात नहीं है बल्कि पूरे देश की बात है और सभी समर्थक अमित शाह से यही उम्मीद लगाए बैठे होंगे कि वह निश्चित की कार्रवाई करेंगे। अगर आरोप सही है तो भाजपा को पूरे देश मे संदेश देने के लिए इस व्यक्ति को जल्द से जल्द बांग्लादेश वापस भेज देना चाहिए।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment