कोरोना के सच को छिपाने के लिए चीन जांच टीम के साथ करने लगा साजिश - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Wednesday, January 6, 2021

कोरोना के सच को छिपाने के लिए चीन जांच टीम के साथ करने लगा साजिश

 दिल्ली। कोरोना वायरस के सच को चीन छिपा नहीं पा रहा है। वह बार-बार विश्व स्वास्थ्य संगठन की टीम की जांच में अडं़गे डाल रहा है। दुनिया कोराना वायरस के सच को जानना चाहती है। चीन के वुहान शहर में इसके उत्पत्ति का रहस्य क्या है? चीन नहीं चाहता कि कोरोना के सवालों पर से पर्दा हटे। यही वजह है कि ड्रैगन कोरोना की जांच को रोकने की हर संभव कोशिश करता दिख रहा है। चीन ने विश्व स्वास्थ्य संगठन की एक टीम को अपने यहां आने से रोक दिया है। यह टीम कोरोना की उत्पत्ति की जांच करने जाने वाली थी। चीन ने कहा है कि टीम के सदस्यों के वीजा को अभी मंजूरी नहीं मिली है जबकि टीम के कुछ सदस्य यात्रा शुरू भी कर चुके हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक टेड्रोस एडनोम ग्रेबेसियस ने चीन की इस हरकत पर नाराजगी जताई है और उन्होंने कहा कि उन्होंने टीम को एंट्री की अनुमति देने के लिए चीन को फोन किया था। उन्होंने कहा कि मैं इससे बहुत निराश हूं। ज्ञात हो कि टीम के दो सदस्य पहले ही अपनी यात्रा शुरू कर चुके हैं। शेष सदस्यों को अंतिम क्षण में यात्रा नहीं करने दी गई। उन्होंने कहा कि मैं वरिष्ठ चीनी अधिकारियों के संपर्क में हूं और मैंने एक बार फिर साफ कर दिया है कि ये मिशन डब्ल्यूएचओ और अंतर्राष्ट्रीय टीम की प्राथमिकता में शामिल है।

ट्रेडोस ने कहा कि यह मिशन संयुक्त राष्ट्र की स्वास्थ्य एजेंसी की प्राथमिकता है और उन्हें यह आश्वासन दिया गया था कि चीन इसके लिए आंतरिक प्रक्रियाओं को तेजी से पूरा कर रहा है। विष्व स्वास्थ्य संगठन की टीम जल्द से जल्द मिशन शुरू करना चाहती है। विश्वभर के विशेषज्ञों के वुहान पहुंचने की संभावना है, जहां एक साल पहले कोरोना का वायरस पैदा हुआ था। यहीं से यह वायरस दुनिया के सामने आया था। विश्व स्वास्थ्य संगठन के आपात कार्यक्रमों के प्रमुख माइकल रेयान ने कहा कि विशेषज्ञों को मंगलवार से वहां पहुंचना था। सदस्यों को उन्हें वीज़ा सहित अन्य आवश्यक मंजूरी नहीं दी गई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रमुख ने वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग से पिछले साल मुलाकात की।

ज्ञात हो कि कोरोना वायरस की उत्पत्ति का पता लगाने के लिए डब्ल्यूएचओ ने वैज्ञानिकों की एक टीम का गठन किया है। यह टीम चीन के वुहान का दौरा करेगी और इसकी उत्पत्ति की जांच करेगी। कोरोना वायरस का पहला मामला इसी शहर में मिला था।  गौरतलब है कि पिछले साल विश्व स्वास्थ्य संगठन ने 194 सदस्य देशों वाले संचालक मंडल विश्व स्वास्थ्य सभा ने अंतरराष्ट्रीय एवं डब्ल्यूएचओ के कदमों के निष्पक्ष, स्वतंत्र एवं समग्र मूल्यांकन के लिए स्वतंत्र जांच कराये जाने का प्रस्ताव पारित किया था। उसने डब्ल्यूएचओ से इस वायरस के स्रोत और मानव जाति तक उसके पहुंचने के मार्ग की जांच करने को भी कहा है।

source

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment