लेफ्ट और कांग्रेस नेताओं की तारीफ कर रहे शुभेन्दु अधिकारी, ये है इनसाइड स्टोरी! - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Saturday, January 30, 2021

लेफ्ट और कांग्रेस नेताओं की तारीफ कर रहे शुभेन्दु अधिकारी, ये है इनसाइड स्टोरी!

  

लेफ्ट और कांग्रेस नेताओं की तारीफ कर रहे शुभेन्दु अधिकारी, ये है इनसाइड स्टोरी!

पश्चिम बंगाल में इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले नेताओं का दल-बदल जोरों पर है, सत्ताधारी टीएमसी के कई नेता बीजेपी में शामिल हो चुके हैं, इन्हीं में से एक नाम शुभेन्दु अधिकारी का है, अधिकारी ने हाल ही में एक रैली के दौरान वामदल और कांग्रेस के कुछ नेताओं की तारीफ की है, हुगली जिले के चंदननगर में 20 जनवरी को अधिकारी ने सीपीआई एम के नेता बुद्धदेव भट्टाचार्य की तारीफ की, तो वहां मौजूद लोग भी हैरान रह गये।

वामदलों के नेताओं की तारीफ
इसके बाद 25 जनवरी को पूर्वी मिदनापुर के तमलुक में एक चुनावी रैली में बीजेपी के नेता ने सीपीआई एम के बड़े नेताओं जैसे प्रोमोद दासगुप्ता, बिनॉय चौधरी, गीता मुखर्जी, बिस्वनाथ मुखर्जी और सुकुमार सेनगुप्ता के बारे में अपनी राय दी, suvendu adhikariऐसे में सवाल ये उठता है कि टीएमसी से बीजेपी में आये शुभेन्दु अधिकारी आखिरकार वामदल और कांग्रेस के नेताओं की प्रशंसा क्यों कर रहे हैं।

क्या कहा
शुभेन्दु अधिकारी ने कहा कि मैं वाम मोर्चा की राजनीति के खिलाफ कभी नहीं था, बुद्धदेव भट्टाचार्य एक अच्छे इंसान थे, मैं लक्ष्मण सेठ सरीखे मार्क्सवादी नेता तथा गुंडा संस्कृति के खिलाफ था, शुभेन्दु इतने में ही नहीं रुके, उन्होने माकपा नेता बिमान बोस, बुद्धदेव और कांग्रेस की बंगाल इकाई के अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी की प्रशंसा करते रहे, Subehndu-adhikariबीजेपी में शामिल होने के बाद शुभेन्दु लेफ्ट और कांग्रेस नेताओं की आलोचना करने से बचते रहे हैं, कई राजनीतिक जानकारों का मानना है कि शुभेन्दु इस कोशिश में लगे हुए हैं कि 2016 और 2019 में लेफ्ट और कांग्रेस के 33 फीसदी वोट जो बीजेपी के पक्ष में आये थे, वो इस चुनाव में भी बरकरार रहे, इन सालों में टीएमसी के वोट शेयर में तीन फीसदी की बढोतरी हुई, ऐसे में बीजेपी के प्रति 33 प्रतिशत वाम तथा कांग्रेस के वोट वास्तव में टीएमसी विरोधी वोट थे।

33 फीसदी वोट शेयर हासिल करने की कोशिश
टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी भी 33 फीसदी वोट शेयर हासिल करने के लिये कड़ी मेहनत कर रही है, 2016 के विधानसभा चुनावों में बीजेपी का वोट शेयर 10.2 फीसदी था, 2019 लोकसभा चुनाव में ये 40.3 फीसदी हो गया, पिछले तीन सालों में बीजेपी ने बंगाल में धर्म आधारित राजनीति करने में कामयाबी हासिल की है, ये बीजेपी के वोट शेयर में बंगाल में वृद्धि के साथ स्पष्ट दिख रहा है।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment