जानिए कौन हैं देश के वो 5 शख्स, जिन्होंने अब तक राम मंदिर के लिए किया सबसे ज्यादा दान - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Monday, January 25, 2021

जानिए कौन हैं देश के वो 5 शख्स, जिन्होंने अब तक राम मंदिर के लिए किया सबसे ज्यादा दान

 

जानिए कौन हैं देश के वो 5 शख्स, जिन्होंने अब तक राम मंदिर के लिए किया सबसे ज्यादा दान

अयोध्‍या में बन रहे भव्‍य राम मंदिर के लिए देश भर में धन संचय अभियान शुरू हो गया है । इस अभियान के तहत विहिप कार्यकर्ता पांच-पांच की संख्या में टोली बनाकर घर-घर जा रहे हैं। कार्यकर्ता, 10, 100 और 1000 रुपए के कूपन देकर लोगों से धन इकठ्ठा कर रहे है । इससे बड़ी धनराशि चेक के माध्यम से ली जा रही हैं । देश में हर कोई ये जानने को उत्‍सुक है कि अब तक मंदिर निर्माण के लिए किसने सबसे ज्‍यादा धन दान किया है । आगे जानिए ऐसे 5 लोगों के बारे में ।

11 करोड़
गुजरात में हीरा कारोबारी गोविंदभाई ढोलकिया ने राम मंदिर निर्माण के लिए अपना खजाना खोल दिया है, उन्‍ळोंने 11 करोड़ रुपए की राशि मंदिर निर्माण के लिए दान की है। गोविंद भाई डायमंड कंपनी श्रीरामकृष्णा एक्सपोर्ट्स के फाउंडर हैं और आरएसएस से जुड़े रहे हैं।
5 करोड़
सूरत के महेश कबूतरवाला ने कुल 5 करोड़ रुपए राम मंदिर के लिए दान दिए हैं । महेश भारत में कैमिकल इन्डस्ट्रीज के लिए जाने जाते है ।

1,11,11,111 रुपए
अगला नाम है, रायबरेली जिले में तेजगांव के पूर्व विधायक सुरेंद्र बहादुर सिंह का, जिन्‍होंने श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय को एक करोड़ ग्यारह लाख ग्यारह हजार एक सौ ग्यारह रुपए का चेक सौंपा है।

एक करोड़ एक लाख
जयपुर में कलेक्‍शन के पहले दिन सबसे बड़ी सहयोग राशि के रूप में एसके पोद्दार परिवार ने दान दिया है, परिवार की ओर से एक करोड़ एक लाख रुपये भेंट किए गए हैं । उनके मुताबिक वे राम के अनन्य भक्त हैं, उनका बस चले तो वे अपना सब कुछ भगवान राम को समर्पित कर दें।

सवा करोड़ की सहयोग राशि
अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए सूबे के कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी और मेयर अभिलाषा गुप्ता ने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के पदाधिकारियों को सवा करोड़ रुपए की सहयोग राशि दी है । इसके अलावा भी कई देशवासी हैं जिन्‍होंने भव्‍य राम मंदिर निर्माण के लिए सहयोग राशि दी है ।

No comments:

Post a Comment