रिपब्लिकन सांसद आज भी ट्रम्प के साथ, डेमोक्रेट्स का 2024 में ट्रम्प को रोकने का प्लान हुआ फेल


बड़ी मुश्किल से राष्ट्रपति चुनाव जीतने के बाद भी डेमोक्रेट्स कितने असहज हैं, ये इसी बात से स्पष्ट होता है कि वे किसी भी स्थिति में डोनाल्ड ट्रम्प को महाभियोग के द्वारा निकले जाने का तमगा अपने गले में डलवाना चाहते हैं। परंतु वर्तमान गतिविधियां ऐसी रही है जिससे इनके असफल होने के संकेत स्पष्ट दिखाई देते हैं।

इस महाभियोग के सफल होने के लिए सीनेट में कम से कम 17 रिपब्लिकन सांसदों के मुहर की आवश्यकता थी। लेकिन रैंड पॉल नामक सांसद द्वारा इस प्रस्ताव को असंवैधानिक घोषित करने के निर्णय ने पूरा का पूरा खेल ही पलट दिया है। भले ही डेमोक्रेट्स ने एक सुर में महाभियोग के पक्ष में खड़े हो, लेकिन बाकी 50 सांसदों में से 45 इस प्रस्ताव के विरुद्ध खड़े हुए हैं। 

ऐसे में यह कहना गलत नहीं होगा कि डोनाल्ड ट्रम्प को अमेरिकी राजनीति से अलग थलग करने की योजना में डेमोक्रेट्स बुरी तरह असफल हुए हैं। सांसद रैंड पॉल के अनुसार 45 सांसद इस बात से पूर्णतः सहमत हैं कि डोनाल्ड ट्रम्प पर महाभियोग का मुकदमा चलाने का प्रस्ताव जल्दबाजी में किया गया एक असंवैधानिक प्रस्ताव है। ऐसे में महाभियोग के लिए सीनेट से जरूरी 67 वोटों का आंकड़ा छूना असंभव है।

इससे यह भी स्पष्ट होता है कि रिपब्लिकन पार्टी को अब भी डोनाल्ड ट्रम्प की विश्वसनीयता पर पूरा भरोसा है। हारने के बावजूद उन्होंने लगभग देशभर से 7.5 करोड़ वोट अर्जित किये हैं, और ऐसे में उनपर महाभियोग चलवाने देना रिपब्लिकन पार्टी के लिए खतरे से खाली नहीं होगा।

इसके अलावा डोनाल्ड ट्रम्प ने हाल ही में एक वैकल्पिक पार्टी स्थापित करने का भी सुझाव दिया। ये उन लोगों को आकर्षित करने के लिए बनाई गई है, जो वामपंथी विचारधारा से त्रस्त हैं, और जिन्हे डोनाल्ड ट्रम्प के राष्ट्रवादी और डीप स्टेट विरोधी नीतियों पर पूरा विश्वास है।

अभी हाल ही में कंडक्ट किये गए एक न्यूज पोल के अनुसार अगर पेट्रीयट पार्टी अभी चुनाव लड़ती, तो न सिर्फ वह डेमोक्रेट्स को कड़ी टक्कर देती, बल्कि रिपब्लिकन पार्टी को तीसरे स्थान पर धकेल देती। पेट्रीयट पार्टी के पास 23 प्रतिशत का मत समर्थन होता, जो स्पष्ट करता है कि डोनाल्ड ट्रम्प की लोकप्रियता अमेरिका में किस स्तर तक है। 

चाहे वजह कोई भी हो, परंतु इतना तो स्पष्ट है कि रिपब्लिकन पार्टी अपने पूर्व राष्ट्रपति के साथ डटकर खड़ी है। इसके अलावा जो रिपब्लिकन सांसद ट्रम्प का विरोध कर रहे हैं, उन्होंने भी अप्रत्यक्ष रूप से माना है कि ट्रम्प के विरुद्ध महाभियोग का प्रस्ताव सफल नहीं हो पाएगा। इससे न सिर्फ डेमोक्रेट्स की गुंडागर्दी पर पानी फिरा है, बल्कि डोनाल्ड ट्रम्प के आगामी भविष्य में वापसी करने की संभावना भी प्रबल हुई है।

source

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

0/Post a Comment/Comments