आतंकियों के लिए साल 2020 बना काल, 46 टॉप कमांडर सहित 225 आतंकी किए गए ढेर - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Friday, January 1, 2021

आतंकियों के लिए साल 2020 बना काल, 46 टॉप कमांडर सहित 225 आतंकी किए गए ढेर

 

terrorist

बीता साल यानी साल 2020 में पूरी दुनिया कोरोना महामारी से जूझ रहा था, तो उधर वहीं पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा था। देश कोरोना से लड़ रहा और उधर सरहद पर हमारे सैनिक आतंकियों से लड़ रहे थे। क्योंकि पाक जम्मू-कश्मीर में आतंकियों की लगातार सप्लाई कर रहा था। मगर हमारे सुरक्षा बलों ने जम्मू-कश्मीर में 225 आतंकी को मौत के घाट उतार दिया। जोकि बड़ी संख्या में सीमा पार से घुसपैठ कर भारत में आए थे। पूरे साल में सुरक्षा बलों ने आतंकियों के खिलाफ 100 सफल ऑपरेशन चलाये।

ये ऑपरेशन में 90 कश्मीर, तो 18 जम्मू संभाग के विभिन्न जिलों में चलाये गए। इन ऑपरेशनों में कश्मीर में 207 तो 18 जम्मू संभाग में आंतकी मारे गए। पुलिस मुख्यालय जम्मू में पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान वर्ष 2020 में आतंकियों के खिलाफ चलाए सफल ऑपरेशन के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस महामारी के बीच पुलिस, सीआरपीएफ और सेना के संयुक्त आतंकविरोधी अभियानों में बड़ी सफलता मिली है।

डीजीपी ने बताया कि वर्ष 2020 लॉ एंड ऑर्डर के मामले में अच्छा साबित हुआ है। वर्ष 2019 में 584 घटनाएं हुईं थीं, जो इस बार 143 तक ही रह गईं इसके साथ जानमाल का नुकसान भी नहीं हुआ। डीजीपी ने आगे बताया कि आतंक विरोधी ऑपरेशन में एए और ए प्लस क्षेत्री के 46 आतंकी कमांडरों को हमारे सैनिकों ने मार गिराया है। जिसके बाद अब आतंकी संगठनों के पास कमांडर शेष नहीं रह गए हैं।

इस दौरान चलाये गए ऑपरेशन में 46 आतंकवादी गिरफ्तार हुए हैं तो 76 आतंकियों को भर्ती के तीन महीने के भीतर ही मार दिया गया। आतंक विरोधी ऑपरेशन में हमारे जवान भी शहीद हुए हैं जिनमें पुलिस के 16, जबकि आर्मी और सीआरपीएफ के 44 जवान शहीद हुए है। वहीं, 38 नागरिकों को आतंकियों ने अपना शिकार बनाया है। उन्होंने बताया कि पाक ने इस बीच कई सीजफायर का उल्ल्घन भी किया मगर पिछले दो वर्षों की तुलना में घुसपैठ में कमी देखी गई है।

source

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment