CRPF महिला कांस्टेबल ने डीआईजी पर लगाया दुष्कर्म का आरोप, नहाते समय… - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Friday, December 11, 2020

CRPF महिला कांस्टेबल ने डीआईजी पर लगाया दुष्कर्म का आरोप, नहाते समय…

 

CRPF महिला कांस्टेबल ने डीआईजी पर लगाया दुष्कर्म का आरोप, नहाते समय…

केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है, सीआरपीएफ की रेसलर महिला कांस्टेबल ने अपने चीफ स्पोर्ट्स अधिकारी डीआईजी पर बलात्कार का आरोप लगाया है, इस संबंध में दिल्ली के थाना हरिदास नगर में एक एफआईआर दर्ज कराया गया है, पुलिस को दी गई शिकायत में महिला कांस्टेबल ने आरोप लगाया है कि डीआईजी द्वारा सेक्स रैकेट चलाया जा रहा है, जिसमें उनके दूसरे साथी भी शामिल हैं।

डीआईजी खुद रहे हैं अर्जुन पुरस्कार विजेता
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक डीआईजी खजान 1984 में अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित हो चुके हैं, उन्होने राष्ट्रीय स्तर पर काफी सफलता हासिल की है, delhi police constable100 मीटर फ्रीस्टाइल का राष्ट्रीय रिकॉर्ड उनके नाम है, वो 1984 से 1989 के बीच दक्षिण एशियाई खेलों में कई स्वर्ण पदक अपने नाम कर चुके हैं, मौजूदा वक्त में वो पैरामिलिट्री फोर्स की स्पोर्ट्स यूनिट इंचार्ज है।

नहाते समय खींच ली थी तस्वीर
आरोप लगाने वाली महिला कांस्टेबल का कहना है कि नहाते समय डीआईजी ने उनकी तस्वीर खींच ली थी, जिसके आधार पर उसे ब्लैकमेल किया जा रहा है, साथ ही बात ना मानने की हालत में उसकी तस्वीर इंटरनेट पर डालने की धमकी दी गई, कांस्टेबल का ये भी आरोप है कि महिला कांस्टेबल का शोषण करने वाले ये कई लोग हैं, डीआईजी के साथ दूसरे लोग भी शामिल हैं।

हर स्तर पर हो रही जांच
सीआरपीएफ प्रवक्ता डीआईजी एम दिनाकरन ने बताया एक कांस्टेबल महिला द्वारा खजान सिंह के खिलाफ बलात्कार तथा ब्लैकमेल करने का आरोप लगाया गया है, सीआरपीएफ ने शिकायत को गंभीरता से लिया है, पहले ही एक आंतरिक शिकायत समिति गठित कर दी गई है, समिति का अध्यक्ष आईजी स्तर का अधिकारी है, रही बात एफआईआर की तो सीआरपीएफ हर जांच एजेंसी का पूरा सहयोग करेगी।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment