ऐसे थे अटल, एक क्रांतिकारी को जिताने के लिए खुद को हराने की कर दी थी अपील - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Friday, December 25, 2020

ऐसे थे अटल, एक क्रांतिकारी को जिताने के लिए खुद को हराने की कर दी थी अपील

ऐसे थे अटल, एक क्रांतिकारी को जिताने के लिए खुद को हराने की कर दी थी अपील

देश में आज सुशासन दिवस मनाया जा रहा है, पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को आज सभी दल के नेता याद कर नमन कर रहे हैं । अटल एक ऐसे राजनेता थे जिनके आदर्श विरोधी खेमों में भी चर्चा का विषय होते थे । उनसे जुड़े कई ऐसे किस्‍से हैं, जो लोगों को उनके व्‍यक्तित्‍व के रोचक पहलुओं से रूबरू कराते हैं । उनसे जुड़ा एक किस्‍सा हैरान करने वाला है, ये बात 1957 के लोकसभा चुनाव की है, जब अटल जी ने अपना पहला लोकसभा चुनाव लड़ा था ।

दो सीटों से उतरे थे मौदान में
1957 के लोकसभा चुनाव में अटल बिहारी वाजपेयी ने दो सीटों से चुनाव लड़ा था, उन्‍हें भारतीय जनसंघ पार्टी ने अपना उम्मीदवार बनाया था । इस चुनाव में अटलजी ने यूपी के बलरामपुर और मथुरा लोकसभा सीट से चुनाव मैदान में उतरे थे । लेकिन आप हैरान रह जाएंगे ये जानकर कि मथुरा में चल रही अपनी ही जनसभा में अटलजी ने अपने विरोधी उम्मीदवार राजा महेन्द्र प्रताप सिंह के लिए वोट मांगे थे ।

एक क्रांतिकारी हार गया
दरआल मुरसान (हाथरस) रियासत के राजा महेन्द्र प्रताप सिंह ने पहली लोकसभा 1952 का चुनाव मथुरा से लड़ा था, तब उनके विरोधी उम्मीदवार कांग्रेस के प्रोफेसर किशन चंद थे । इस चुनाव में राजा महेन्द्र प्रताप की करारी हार हुई थी, चूंकि वो एक क्रांतिकारी भी थे । उनकी हार पर तब अटलजी ने कहा था कि आज एक क्रांतिकारी हार गया । राजा महेन्द्र प्रताप सिंह की हार के बाद पर अटलजी ने ये भी कहा कि मैं इस क्रांतिकारी को लोकसभा में देखना चाहता था, इत्तेफाक देखिए 1957 के लोकसभा चुनाव में अटलजी के सामने निर्दलीय चुनाव लड़ने वाले राजा महेन्द्र प्रताप ही थे ।

महेन्‍द्र प्रताप के लिए की वोट अपील
चुनाव प्रचार के दौरान मथुरा के गांधी पार्क में चल रही अपनी एक जनसभा में अटल जी ने लोगों से कहा कि मथुरा वालो जैसा प्यार आप मुझे दे रहे हो, ठीक वैसा ही प्यार मुझे बलरामपुर में भी मिल रहा है । इसलिए मैं चाहता हूं कि मथुरा से आप राजा महेन्द्र प्रताप को जिताओ और मेरी चिंता मत करो । ऊपर वाले ने चाहा तो मैं बलरामपुर से जीत जाऊंगा । उस लोकसभा चुनाव में अटलजी बलरामपुर से चुनाव जीत गए, लेकिन मथुरा में उनकी जमानत जब्त हो गई थी ।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment