अपने बचपन की बुरी यादों और डर के कारण जिनपिंग अपने परिवार के किसी भी सदस्य को चीन में नहीं रखते - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Sunday, December 13, 2020

अपने बचपन की बुरी यादों और डर के कारण जिनपिंग अपने परिवार के किसी भी सदस्य को चीन में नहीं रखते


आज दुनिया के सबसे ताकतवर तानाशाह शी जिनपिंग है, लेकिन क्या अपने सोचा है कि उनका परिवार कहाँ रहता है? चीन में रहता भी है या नहीं?

विडम्बना यह है कि पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना के राष्ट्रपति शी जिनपिंग भी कम्युनिस्ट प्रणाली से इस प्रकार से डरते हैं कि वे भी अपने परिवार को चीन में रखने की हिम्मत भी नहीं जुटा पाते। यह तथ्य है कि शी वर्तमान में लोकतांत्रिक दुनिया के साथ एक युद्ध लड़ रहे हैं। फिर भी, शी के परिवार के सदस्य ऑस्ट्रेलिया, अमेरिका या कनाडा में रहते हैं।

आखिर शी के परिवार के सदस्य चीन में क्यों नहीं रह सकते?

खैर, यह बेतुका लग सकता है कि शी जिनपिंग भी उतने ही असुरक्षित चीनी नागरिक है जितना एक आम चीनी होता है। CCP महासचिव होने के बावजूद, वह चीनी कम्युनिस्ट पार्टी पर भरोसा नहीं कर सकते। चीनी राष्ट्रपति की इस असुरक्षा की भावना के पीछे की वजह उनका बचपन है।

शी जिनपिंग के परिवार के सदस्यों में उनकी बेटी Xi Mingze सबसे प्रमुख है। उन्होंने 2014 में हार्वर्ड विश्वविद्यालय से स्नातक किया था।  Xi Mingze के हार्वर्ड में नामांकन से यह स्पष्ट होता है कि शी जिनपिंग अपनी बेटी को बीजिंग की तुलना में अमेरिका में अधिक सुरक्षित मानते हैं। कम्युनिस्ट राष्ट्र के सबसे शक्तिशाली परिवार के सदस्य होने के बावजूद, Mingze चीन के अंदर किसी भी सार्वजनिक मंच पर नहीं देखी गई।

शी की ऑस्ट्रेलिया में कुछ रिश्तेदारों के अलावा कनाडा में बहन भी है। चीनी राष्ट्रपति का हांगकांग में एक भाई और एक बहन भी है। हालांकि, उनके प्रमुख रिश्तेदारों में से कोई भी चीन के मेनलैंड में नहीं रहता हैं।

ऐसा प्रतीत होता है कि शी जिनपिंग संभवतः अपने बचपन के  डर के कारण अपने परिवार को चीन से दूर रखते हैं। शी जिनपिंग सौभाग्यशाली थे, जो एक प्रभावशाली चीनी परिवार में पैदा हुए। उनके पिता, Xi Zhongxun, माओ ज़ेडॉन्ग के सबसे करीबी साथियों में से एक थे, जिन्होंने माओ के साथ मिलकर कुओमितांग शासन को उखाड़ फेंका और पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना की स्थापना की।

माओ ने एक बार Zhongxun को “लोगों के नेता” के रूप में वर्णित किया था। 1950 के दशक दौरान Zhongxun को पुरस्कृत भी किया गया और यहां तक ​​कि चीन का सबसे युवा वाइस प्रीमियर भी बनाया गया। हालांकि, माओ और उनकी नीतियों के समर्थक  होने के बावजूद उन्होंने एक ऐसे उपन्यास का समर्थन कर दिया जिसमें माओ की आलोचना की गयी थी। यही से Zhongxun के लिए समय खराब होना शुरू हुआ।

एक छोटे बच्चे के रूप में, शी जिनपिंग ने अपने पिता को जेल जाते हुए देखा और उनके परिवार के घर पर छात्र आतंकवादियों द्वारा हमला किया गया। खुद जिनपिंग को उनके अपने बीजिंग स्कूल से निष्कासित कर दिया था।

चीनी राष्ट्रपति की मां को तब सार्वजनिक रूप से पिता की निंदा करने के लिए मजबूर किया गया था, और शी जिनपिंग के परिवार के सदस्यों के लक्षित उत्पीड़न के कारण उनकी एक बहन ने भी आत्महत्या कर ली थी। इससे भी बुरी बात यह है कि शी माओ की ‘सांस्कृतिक क्रांति’ में फंस गए।

चीनी प्रोपोगेंडा आउटलेट के अनुसार, शी जिनपिंग एक सुदूर चीनी शहर में गए, जहां उन्होंने सात साल तक मेहनत किया और ‘सांस्कृतिक क्रांति’ के एक हिस्से के रूप में एक Cave House में रहते थे।

जिनपिंग ग्रामीण जीवन के आदी नहीं हो पाए और बीजिंग भागने की कोशिश की। लेकिन उन्हें हिरासत में लिया गया और एक शिविर में भेजा गया जहां शी से गड्ढे खुदवाए जाते थे।

यहाँ ध्यान देने वाली बात यह है कि शी जिनपिंग किसी साधारण परिवार से नहीं थे। उनके पिता शीर्ष CCP नेतृत्व का हिस्सा थे और फिर भी शी जिनपिंग का बचपन गड्ढे खोदते बिता।

यही चीन की कम्युनिस्ट प्रणाली की विशेषता है। कोई भी एक सामान्य या उच्च पदस्थ अधिकारी का पुत्र हो सकता है, लेकिन इस बात की हमेशा संभावना है कि CCP आपके मानवाधिकारों का उल्लंघन करेगा। जो भी शीर्ष पद पर बैठेगा वह अपने विरोधियों को जड़ से समाप्त करने की कोशिश अवश्य करेगा।

शी जिनपिंग से बेहतर यह कोई नहीं जानता, जिन्होंने खुद कई शीर्ष रैंकिंग वाले सीसीपी नेताओं को इसी तरह से निशाना बनाया है। ऐसे में शी जिनपिंग को आज यह पता है कि वह सीसीपी महासचिव हो सकते हैं, लेकिन उनका भाग्य  कभी भी बदल सकता है और उनके खिलाफ कभी भी तख्तापलट किया जा सकता है। यही कारण है कि वे अपने परिवार को CCP चंगुल से दूर रखने का प्रयत्न करते हैं। वह निश्चित रूप से अपनी बेटी और बाकी बहनों को उस तरह के अपमान का सामना नहीं करने देना चाहते हैं जैसा कि शी जिनपिंग के पिता, एक पूर्व वाइस प्रीमियर को सहना पड़ा था। शी जिनपिंग चीन के सबसे शक्तिशाली व्यक्ति हो सकते हैं लेकिन उनके परिवार के सदस्य भी चीन में सुरक्षित नहीं रह सकते।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment