सीएम केजरीवाल को समझाएंगे कृषि बिल के फायदे, मनोज तिवारी ने भेजा न्योता! - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Sunday, December 27, 2020

सीएम केजरीवाल को समझाएंगे कृषि बिल के फायदे, मनोज तिवारी ने भेजा न्योता!


सीएम केजरीवाल को समझाएंगे कृषि बिल के फायदे, मनोज तिवारी ने भेजा न्योता!

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल कृषि बिल के विरोध में प्रदर्शन कर रहे किसानों से मिलने के लिये जाएंगे, सीएम केजरीवाल की इस मुलाकात से बीजेपी सांसद मनोज तिवारी का बयान सामने आया है, दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल के सिंधु बॉर्डर पर किसानों से मिलने पर मनोज तिवारी ने प्रतक्रिया दी है।

राजनीति कर रहे हैं
दिल्ली बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि आप संयोजक अरविंद केजरीवाल किसानों के इस मुद्दे पर राजनीति कर रहे हैं, किसानों के कानून को दिल्ली सरकार ने नोटिफाई किया, फिर अब इसी का विरोध कर रहे हैं, ये उनका दोहरा रुप है।

बिल के बारे में जानकारी देंगे
मनोज तिवारी ने कहा कि रविवार दोपहर तीन बजे हमने उन्हें अपने घर बुलाया है, इस बिल के बारे में उन्हें जानकारी देंगे, केजरीवाल हमें अपने घर में नहीं आने देते, इसलिये कृषि बिल के फायदे उन्हें समझाने के लिये बुलाया है, अगर केजरीवाल इस बिल का फायदा जानना चाहते हैं, तो उन्हें यहां आना चाहिये, मनोज तिवारी ने कहा कि दिल्ली में किसानों को कोई सहूलियत नहीं मिलती है, उम्मीद है कि बातचीत के माध्यम से किसानों को लेकर कोई रास्ता निकलेगा।

29 दिसंबर को फिर चर्चा
कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग पर अड़े किसानों ने केन्द्र सरकार से 29 दिसंबर को बैठक करने का फैसला लिया है, किसान नेताओं ने केन्द्र सरकार को चिट्ठी लिखकर मंगलवार को सुबह 11 बजे बातचीत करने की बात कही है, साथ ही चिट्ठी में किसानों की मांगों को भी स्पष्ट कर दिया है, संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से किसान नेताओं ने लिखा है, कि केन्द्र सरकार के 24 दिसंबर 2020 को लिखे लेटर के जवाब में किसानों की ओर से चिट्ठी भेजी जा रही है, किसानों ने लिखा, अफसोस है कि इस चिट्ठी में भी सरकार ने पिछले बैठकों के तथ्यों को छिपाकर जनता को गुमराह करने की कोशिश की है, हमने हर वार्ता में हमेशा तीन केन्द्रीय कृषि कानूनों को निरस्त करने की मांग की है, सरकार ने इसे तोड़-मरोड़ कर ऐसे पेश किया, मानो हमने इन कानूनों में संशोधन की मांग की थी।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment