टेक प्रतिभाओं को बुला रहा है दुनिया का सबसे खुशहाल देश फिनलैंड - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Monday, December 28, 2020

टेक प्रतिभाओं को बुला रहा है दुनिया का सबसे खुशहाल देश फिनलैंड


finland

 दिल्ली। दुनिया के देशों की जीवन शैली, आय और लोगों का जीवन स्तर के अनुसार खुशहाल देश की रेटिंग जारी होती है। वर्तमान में सबसे खुशहाल देश फिनलैंड ने टेक पेशेवरों को तीन महीने तक रहने का निमंत्रण दिया है। टेक पेशेवरों के साथ उनका परिवार भी आकर रह सकता है। इस योजना के जरिए फिनलैंड दुनिया की प्रौद्योगिकी क्षेत्र की प्रतिभाओं को आकर्षित करना चाहता है। अगर पेशेवरों को फिनलैंड भा गया तो वे यहां स्थायी रूप से बस भी सकते हैं। फिनलैंड ने अपनी माइग्रेशन योजना के तहत इस ऐतिहासिक पहल को अभियान के तौर पर शुरू किया है। फिनलैंड को एक महीने में ही 5300 आवेदन आ चुके हैं। आवेदन करने वालों में 30 फीसदी पेशेवर अकेले अमेरिका और कनाडा के हैं। 50 से अधिक ब्रिटिश पेशेवरों ने आवेदन किए हैं। आवेदन करने वाले ज्यादातर पेशेवर परिवार वाले हैं और फिलहाल अपने वर्तमान नियोक्ता के पास ही रिमोट वर्किंग के माध्यम से काम करना चाहते हैं। 800 आवेदक उद्यमी हैं जो अपना स्टार्टअप खोलने की इच्छा रखते हैं। ऐसे भी लोग हैं जो निवेशक और नौकरी खोज रहे पेशेवर हैं। इस अभियान की शुरुआत करने वाले जोहाना हुर्रे का कहना है कि दुनिया में बहुत से लोग दूसरे देशों में जाकर बसना चाहते हैं। ऐसे पसंदीदा देशों की सूची में अब तक फिनलैंड का स्थान शीर्ष पर नहीं है। हम उस स्तर तक पहुंचना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि हमें भरोसा है कि जो फिनलैंड आकर कुछ समय तक रहेगा। उसे हमारा समाज और सरकारी सुविधाएं इतनी पसंद आएंगी कि वह यहीं रह जाना चाहेगा। पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा योग्यता वाले लोगों की मांग है।

दिल्ली। दुनिया के देशों की जीवन शैली, आय और लोगों का जीवन स्तर के अनुसार खुशहाल देश की रेटिंग जारी होती है। वर्तमान में सबसे खुशहाल देश फिनलैंड ने टेक पेशेवरों को तीन महीने तक रहने का निमंत्रण दिया है। टेक पेशेवरों के साथ उनका परिवार भी आकर रह सकता है। इस योजना के जरिए फिनलैंड दुनिया की प्रौद्योगिकी क्षेत्र की प्रतिभाओं को आकर्षित करना चाहता है। अगर पेशेवरों को फिनलैंड भा गया तो वे यहां स्थायी रूप से बस भी सकते हैं। फिनलैंड ने अपनी माइग्रेशन योजना के तहत इस ऐतिहासिक पहल को अभियान के तौर पर शुरू किया है। फिनलैंड को एक महीने में ही 5300 आवेदन आ चुके हैं। आवेदन करने वालों में 30 फीसदी पेशेवर अकेले अमेरिका और कनाडा के हैं। 50 से अधिक ब्रिटिश पेशेवरों ने आवेदन किए हैं। आवेदन करने वाले ज्यादातर पेशेवर परिवार वाले हैं और फिलहाल अपने वर्तमान नियोक्ता के पास ही रिमोट वर्किंग के माध्यम से काम करना चाहते हैं। 800 आवेदक उद्यमी हैं जो अपना स्टार्टअप खोलने की इच्छा रखते हैं। ऐसे भी लोग हैं जो निवेशक और नौकरी खोज रहे पेशेवर हैं। इस अभियान की शुरुआत करने वाले जोहाना हुर्रे का कहना है कि दुनिया में बहुत से लोग दूसरे देशों में जाकर बसना चाहते हैं। ऐसे पसंदीदा देशों की सूची में अब तक फिनलैंड का स्थान शीर्ष पर नहीं है। हम उस स्तर तक पहुंचना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि हमें भरोसा है कि जो फिनलैंड आकर कुछ समय तक रहेगा। उसे हमारा समाज और सरकारी सुविधाएं इतनी पसंद आएंगी कि वह यहीं रह जाना चाहेगा। पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा योग्यता वाले लोगों की मांग है।

source

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment