चीन ने मछली नौकाओं के जखीरे से ऑस्ट्रेलिया को डराना चाहा लेकिन Australia अपनी नौसेना के साथ है उसका मुकाबला करने के लिए है तैयार - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Tuesday, December 22, 2020

चीन ने मछली नौकाओं के जखीरे से ऑस्ट्रेलिया को डराना चाहा लेकिन Australia अपनी नौसेना के साथ है उसका मुकाबला करने के लिए है तैयार

 


चीन की ढिठाई अलग ही स्तर की है। चाहे कितना भी उसे बेइज्जत होना पड़े, पर मजाल है कि वह इससे सीख लेकर अपनी गुंडई छोड़ दे। अभी एक बार फिर उसने ऑस्ट्रेलिया को डराने धमकाने का प्रयास किया, परंतु ऑस्ट्रेलिया तो मानो चीन की चुनौती का स्वागत करने के लिए लाव लश्कर सहित तैयार खड़ा है।

अभी हाल ही में चीन और ऑस्ट्रेलिया के बीच व्याप्त ट्रेड युद्ध के समय चीन ने मछली नौकाओं का एक जखीरा ऑस्ट्रेलिया की ओर केंद्रित किया है। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार चीन के केवल 3000 नौकाएँ अंतर्राष्ट्रीय जलक्षेत्रों में सक्रिय है, लेकिन सैटेलाइट इमेज और दूसरे देशों द्वारा निकाले गए साक्ष्य तो कुछ और ही कहानी बयां कर रहे हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स की माने, तो चीन द्वारा संचालित नौकाओं की संख्या 3000 से लगभग 4 गुना ज्यादा है। न्यूज़ीलैंड हेराल्ड के रिपोर्ट के अनुसार ये संख्या 12500 तक भी जा सकती है। ये इसलिए भी ऑस्ट्रेलिया के लिए चिंताजनक है क्योंकि ये मछली नौकाएँ सिर्फ ऑस्ट्रेलिया की मछलियों, विशेषकर रॉक लॉबस्टर के लिए ही नहीं आए हैं, बल्कि ये पापुआ न्यू गिनी में प्रस्तावित चीनी बंदरगाह के जरिए ऑस्ट्रेलिया के बारे में आवश्यक जानकारी भी जुटा सकते हैं, जो ऑस्ट्रेलिया और इंडो पेसिफिक क्षेत्र, दोनों की सुरक्षा के लिए बेहद चिंताजनक बात है।

हालांकि ऑस्ट्रेलिया भी इस विषय पे चुप नहीं है। ऑस्ट्रेलिया ने पहले ही चीन के विरुद्ध मोर्चा संभाला हुआ है, और अब मछली नौकाओं के इस जखीरे ने ऑस्ट्रेलियाई नौसेना को पूरी ताकत के साथ चीन के नापाक इरादों को ध्वस्त करने का एक सुनहरा अवसर भी दिया है। सच कहें तो चीन ने इस बार खुद अपनी शामत को न्योता दिया है।

ऐसा इसलिए है क्योंकि ऑस्ट्रेलिया अब पहले जैसा बिल्कुल नहीं रहा। निस्संदेह चीन की गुंडई के कारण ऑस्ट्रेलियाई जौ और कोयला चीन नहीं पहुँच पा रहा है, परंतु चीन की किसी भी नापाक गतिविधि से निपटने हेतु ऑस्ट्रेलिया पूरी तरह तैयार है, क्योंकि उसके पास भारत, जापान और अमेरिका जैसे ताकतवर देशों का भी साथ है। अभी हाल ही में QUAD के अंतर्गत चारों देशों ने मालाबार में संयुक्त युद्ध अभ्यास में भी हिस्सा लिया था।

चीन ने एक बार फिर वही गलती की है, जिसके कारण जापान ने बिना एक गोली चलाए उसकी ताबाड़तोड़ धुलाई की है। उसे लग रहा था कि मछली नौकाओं के जखीरे से वह ऑस्ट्रेलिया को डरा देगा, पर ऑस्ट्रेलिया तो मानो इसी प्रतीक्षा में है कि चीनियों, तुम आओ तो सही।

source

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment