रहस्य: इस मंदिर में कुंवारों को मिलता है मां पार्वती का आशीर्वाद, मूर्ती चुराने पर खुल जाते हैं शादी के भाग्य! - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

19 November 2020

रहस्य: इस मंदिर में कुंवारों को मिलता है मां पार्वती का आशीर्वाद, मूर्ती चुराने पर खुल जाते हैं शादी के भाग्य!

 

SHIV

शादी…एक पवित्र रिश्ता है न सिर्फ एक रिश्ता बल्कि जन्मों-जन्मों का बंधन है. हर कोई एक उम्र के बाद इस बंधन में बंध जाता है. अकसर देखा गया है कि कई लोग ऐसे भी हैं जिनकी शादी को लेकर तमाम बाधाएं उत्पन्न होती हैं. उन्हें शादी तो करनी होती है लेकिन कभी कुंडली का दोष तो कभी लड़की का दोष या खुद का ही दोष..हर चीजों से इंसान घिरा हुआ है. लेकिन कई जगहों पर शादी के अनोखे तरीके भी देखे गए हैं. इन दिनों एक खबर सोशल साइट्स पर सुर्खियों में है जहां ऐसा कहा जा रहा है कि मंदिर की मूर्ति चोरी करने से कुंवारों की शादी हो जाती है. जी हां, काफी हद तक आपको भरोषा नहीं होगा लेकिन ये सच्चाई है….ऐसा ही एक रहस्य राजस्थान के मंदिर से जुड़ा हुआ है, जहां लोग इसके लिए मूर्ति चुराकर भागने का अनोखा तरीका अपनाते हैं. मान्यता है कि इस मंदिर से मूर्ति (Statue) चुराते ही युवक की जल्द ही शादी हो जाती है. फिलहाल, सावन के आने पहले ही इस मंदिर में देवी की एक मूर्ति गायब है. स्थानीय लोगों का कहना है कि किसी कुंवारे ने मूर्ति को घर में छुपा रखा है.

दैनिक भास्कर अखबार में छपी खबर के मुताबिक, हम बात कर रहे हैं राजस्थान के बूंदी जिले के हिंडाैली कस्बे में स्थित रघुनाथ घाट मंदिर (Raghunath Ghat Temple) के बारे में. यह मंदिर रामसागर झील के किनारे बना हुआ है. ऐसी कथा है कि इस मंदिर से पार्वती माता की मूर्ति चुराकर ले जाने से कुंवारे लड़कों की तुरंत शादी हो जाती है. खास बात यह है कि मूर्ति चुराने पर पुलिस में केस दर्ज नहीं कराया जाता है.

फिलहाल, सावन के पहले से ही पार्वती जी महादेव से बिछड़ी हुई हैं. स्थानीय लोगों के अनुसार वे किसी कुंवारे के घर में हैं. पिछले 35 साल से मंदिर में पुजारी के रूप में सेवा दे रहे रामबाबू पाराशर अखबार को बताते हैं कि अब तक 15-20 बार पार्वतीजी की मूर्ति चोरी हो चुकी है. संयोग यह है कि चुराने वाले सभी कुंवारों की शादियां भी हो चुकी हैं.

मंदिर के पुजारियों की मानें तो पार्वती जी की मूर्ति चुराने के पीछे एक खास परंपरा चली आ रही है. ऐसी मान्यता है कि जिस युवक की शादी नहीं हो पा रही है और वह इस मंदिर से चुपके से पार्वती की मूर्ति चुरा ले जाए, तो उसकी शादी जल्द हो जाती है. यही वजह है कि कुंवारे मंदिर से रात के अंधेरे में पार्वती जी की मूर्ति चुरा ले जाते हैं. ऐसे में भगवान महादेव (शिवलिंग) को हमेशा अकेला ही रहना पड़ता है. वहीं, जैसे ही शादी हो जाती है युवक मंदिर में मूर्ति रख जाता है. फिर कोई दूसरा कुंवारा उसे चुरा ले जाता है. बहरहाल ये अनोखा तरीका राजस्थान के बूंदी जिले के हिंडाैली कस्बे में स्थित रघुनाथ घाट मंदिर का है जहां अब तक जिसने भी मां पार्वती की मूर्ती चुराई है संजोग से उसकी शादी हो चुकी है।

source

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment