ओबामा ने बताया लादेन को कैसा ठोंका था, ऑपरेशन पूरा होने के बाद मिलाया था सीधे पाकिस्‍तान फोन - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

19 November 2020

ओबामा ने बताया लादेन को कैसा ठोंका था, ऑपरेशन पूरा होने के बाद मिलाया था सीधे पाकिस्‍तान फोन

 

ओबामा ने बताया लादेन को कैसा ठोंका था, ऑपरेशन पूरा होने के बाद मिलाया था सीधे पाकिस्‍तान फोन

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने अपनी आत्मकथा ‘अ प्रॉमस्ड लैंड’ में कई रहस्योदघाटन किए हैं । इस किताब की वजह से वो लगातार सुर्खियों में बने हुए हैं । अपनी आत्‍मकथा में उन्होंने वैश्विक राजनीति से लेकर पद पर रहने के दौरान बनाई गई सामरिक रणनीति के रहस्यों से पर्दा हटाया है । उन्‍होंने इसमें ये भी बताया है कि कैसे दुनिया के खूंखार आंतकी और अलकायदा के सगना ओसामा बिन लादेन की जब खबर उन्‍हें मिली तो कैसे उसके खात्मे का प्‍लान बनाया गया ।

ऑपरेशन की थी पूरी जानकारी
आबोमा तब अमेरिका के राष्ट्रपति थे और उन्‍हें इस ऑपरेशन के बारे में पूरी जानकारी थी । उन्होंने अपनी किताब में बताया है कि, जब ओसामा बिन लादेन के पाकिस्तान में छिपे होने की जानकारी मिली तो उसे मारने के लिए जो ऑपरेशन बनाया गया उसमें जान-बूझकर पाकिस्तानी एजेंसियों को शामिल नहीं किया गया, क्योंकि कई पाकिस्तानी सैन्य अधिकारी और आईएसआई के ऑफिसर तालिबान और अलकायदा के लोगों से मिले हुए थे ।

कई लोग थे खिलाफ
ओबामा ने अपनी किताब में आगे बताया है कि उस वक्त जब ओसामा बिन लादेन को एबटाबाद में मारने का प्लान बनाया तो उनके रक्षामंत्री रॉबर्ट गेट्स और तत्कालीन उप राष्ट्रपति जो बाइडेन जो अब राष्ट्रपति बन गए हैं, वे इस ऑपरेशन के खिलाफ थे । उन्होंने किताब में लिखा है कि, अमरीकी प्रशासन दो विकल्प पर विचार कर रहा था, पहला ये कि एयर स्ट्राइक कर जहां ओसामा छिपा है उस कंपाउंड को उड़ा दिया जाए या फिर दूसरा ये कि एक खास ऑपरेशन की इजाजत दी जाए ताकि चुनिंदा टीम हेलीकॉप्टरसे चुपके से पाकिस्तान में जाकर इस ऑपरेशन को अंजाम दें और पाकिस्तानी सरकार और उसके सुरक्षाबलों को पता चलने से पहले ही वहां से निकल लें ।

दूसरे विकल्‍प को चुना गया
ओबामा ने बताया कि काफी मंथन के बाद प्रशासन ने दूसरे विकल्प की इजाजत दी थी । उन्‍होंने बताया कि ओसामा बिन लादेन को मारे जाने के बाद उन्होंने कई देशों के प्रमुखों को कॉल किया था, जिनमें सबसे मुश्किल था पाकिस्तान के तत्कालानी राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी को फोन कर उन्हें इस बारे में बताना । ओबामा ने इस किताब कई ऐसी बातें बताई हैं जो हैरान करने वाली हैं ।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment