संबित पात्रा ने जिसे बताया ‘गुप्‍तचर अलायंस’, उस गुपकार अलायंस को लेकर आखिर क्‍या है झगड़ा? - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

18 November 2020

संबित पात्रा ने जिसे बताया ‘गुप्‍तचर अलायंस’, उस गुपकार अलायंस को लेकर आखिर क्‍या है झगड़ा?

 

संबित पात्रा ने जिसे बताया ‘गुप्‍तचर अलायंस’, उस गुपकार अलायंस को लेकर आखिर क्‍या है झगड़ा?

जम्मू कश्मीर में स्थानीय निकाय के चुनाव होने है, लेकिन इससे पहले ही यहां बने गुपकार अलायंस को लेकर राजनीति तेज हो गई है । इस गुपकार अलायंस में नेशनल कॉन्फ्रेंस समेत पीडीपी, पीपल्स कॉन्फेंस, सीपीआई (एम), पीपल्स यूनाइटेड फ्रंट, पैंथर्स पार्टी और आवामी नैशनल कॉन्फ्रेंस शामिल है । खास बात ये कि इन सभी राजनीतिक दलों ने जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल 370 और आर्टिकल 35ए की वापसी की लड़ाई साथ लड़ने का संकल्प लिया है । ये सभी दल एक साथ मिलकर जम्मू-कश्मीर में स्थानीय निकाय लड़ रहे हैं ।

क्‍या है पूरा मामला?
बीजेपी इस अलायंस को गुप्‍तचर अलायंस का नाम दे रही है, संबित पात्रा समेत कई दूसरे बीजेपी नेताओं ने इस बैठक के बाद प्रेस कॉन्‍फ्रेंस की और इसे देश विरोधी बताया । खुद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुपकर घोषणापत्र गठबंधन (पीएजीडी) को “नापाक वैश्विक गठजोड़” करार दिया, उन्‍होंने कहा कि इस गठबंधन का मकसद कांग्रेस के साथ आतंक और अशांति के दौर की वापसी चाहता है ।शाह ने कहा – “कांग्रेस और गुपगर गैंग amit shah 2जम्मू कश्मीर को आतंक और अशांति के युग में वापस ले जाना चाहते हैं. अनुच्छेद 370 को हटाकर हमने वहां के दलितों, महिलाओं और आदिवासियों को जो अधिकार प्रदान किए हैं उसे वे वापस लेना चाहते हैं. यही कारण है कि उन्हें देश की जनता हर जगह से खारिज कर रही है.”

उमर अब्‍दुल्‍ला और मुफ्ती का बयान 
वहीं जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती ने अमित शाह के आरोपों की आलोचना की, उन्‍होंने आरोप लगाया कि सियासी गठबंधन के स्थानीय निकाय चुनाव लड़ने और भाजपा व उसके सहयोगियों को खुली छूट नहीं देने का फैसला गृह मंत्री की “कुंठा”की वजह है । महबूबा ने ट्विटर पर लिखा – “खुद को मसीहा और राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों को देश का दुश्मन की तरह पेशकर भारत को बांटने के भाजपा के हथकंडे का अनुमान लगाया जा सकता है।” एक और ट्वीट में लिखा – ‘‘बढ़ती बेरोजगारी और महंगाई (जैसे मुद्दों) के स्थान पर लव जेहाद, टुकड़े-टुकड़े और अब गुपकर गैंग राजनीतिक विमर्श में हावी हो गया है।’’

उमर अब्‍दुल्‍ला ये बोले
वहीं नेशनल कॉन्फ्रेंस के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने कहा-  ‘‘ हम गैंग नहीं हैं अमितशाह जी, हम वैध राजनीतिक गठबंधन हैं जिसने चुनाव लड़े हैं और लड़ते रहेंगे और यही बात आपको परेशान कर रही है।’’ उमर ने आगे कहा-  मैं माननीय गृहमंत्री के इस हमले के पीछे की कुंठा समझ सकता हूं । उन्हें बताया गया था कि यह गठबंधन चुनाव का बहिष्कार करने की तैयारी कर रहा है । इससे भाजपा और नवगठित दल को खुला मैदान मिल जाता। हमने उनकी उम्मीदें पूरी नहीं की ।

कांग्रेस की ओर से आया ये बयान
वहीं कांग्रेस के जम्मू कश्मीर अध्यक्ष गुलाम अहमद मीर ने बताया है कि कांग्रेस का गुपकार अलायंस से कोई लेना देना नहीं है, गुपकार की किसी भी बैठक में राज्य कांग्रेस का कोई प्रतिनिधि शामिल नहीं हुआ ।  कांग्रेस डीडीसी चुनाव अपने सिंबल पर लड़ेगी । कांग्रेस पार्टी ने स्‍पष्‍ट किया है कि वह जम्मू कश्मीर में फारूक अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती वाले गठबंधन यानी ‘गुपकार अलायंस’ या ‘पीपुल्स एसोसिएशन फॉर गुपकार डिक्लरेशन’ का हिस्सा नहीं है । कांग्रेस से रणदीप सुरजेवाला ने भी जवाब दिया । उन्‍होंने कहा – ‘आए दिन झूठ बोलना और नए भ्रमजाल गढ़ना मोदी सरकार का चाल, चेहरा और चरित्र बन गया है. शर्म की बात तो यह है कि गृहमंत्री अमित शाह राष्ट्रीय सुरक्षा की अपनी जिम्मेदारी को दरकिनार कर जम्मू, कश्मीर व लद्दाख पर सरासर झूठी, भ्रामक व शरारतपूर्ण बयानबाजी कर रहे हैं’ ।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment