पढ़ाई में अगर नहीं लगता है बच्चे का मन तो अपनाएं ये वास्तु टिप्स - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

02 November 2020

पढ़ाई में अगर नहीं लगता है बच्चे का मन तो अपनाएं ये वास्तु टिप्स

 

च्चों की पढ़ाई को लेकर माता पिता आज कल काफी परेशान रहते हैं, पढ़ाई और करियर को लेकर प्रतियोगिता का स्तर काफी बढ़ गया है। हर माता-पिता यही सोचते हैं कि उनका बच्चा अच्छे से पढ़ाई करे लेकिन कई बार देखने को मिलता है कि बच्चे पढ़ाई में रूचि नहीं लेते हैं। अक्सर देखा गया है कि बच्चों का पढ़ाई में मन नहीं लगता है, वो पढ़ने जरूर बैठते हैं लेकिन एकाग्र होकर पढ़ाई कर नहीं पाते हैं। यही वजह की आज के दौर में माता-पिता का मानसिक तनाव काफी ज्यादा बढ़ा रहता है। वहीं वास्तु शास्त्र में बताया गया है कि पढ़ाई पर ध्यान देने के लिए स्टडी रूम को व्यवस्थित रखना चाहिए। अक्सर स्टडी रूम में वास्तु दोष होने की वजह से पढ़ाई में ध्यान नहीं लगता है।

Vastu Tips: पढ़ाई-लिखाई में नहीं लगता मन? स्टडी रूम में रखें इन बातों का  ध्यान - vastu shastra for study room vastu tips For Students room direction  vastu in hindi lbs -

स्टूडेंट्स को कभी बीम के नीचे बैठकर पढ़ाई नहीं करनी चाहिए, वास्तु के अनुसार, बीम के नीचे बैठकर पढ़ाई करने से ध्यान केंद्रित नहीं होता है। अगर रूम में बीम बना ही हुआ है तो उसमे एक बांसुरी लटका दें। इससे उस स्थान पर वास्तु दोष का असर कम हो जायेगा।

Reasons Why You Need a Study Room at Home as a College Student » Residence  Style

बच्चों का स्टडी रूम उत्तर दिशा, पूर्व दिशा या फिर उत्तर-पूर्व दिशा में ही बनवाना चाहिए। वहीं किताबों को स्टडी रूम पूर्व या उत्तर दिशा में रखें।

Wallpaper Study room, books 2880x1800 HD Picture, Image

जिस टेबल पर बच्चे पढ़ाई करते हैं उस पर ग्लोब या तांबे का पिरामिड रखना शुभ माना जाता है। इससे बच्चों का मन पढ़ाई में लगता है।

27+ Globe Image | Download Free Pictures & Stock Photos On Unsplash

स्टडी रूम में बुद्धि के देवता भगवान गणेश या फिर ज्ञान की देवी सरस्वती की तस्वीर लगाएं। अगर बच्चा अपने ही बैडरूम में स्टडी करता है तो उसे पढ़ाई करते वक़्त पूर्व दिशा या उत्तर दिशा की ओर मुख करके बैठना चाहिए।

बच्चो को कभी भी स्टडी दक्षिण दिशा की ओर मुख करके नहीं करनी चाहिए। इससे उनमे अनुशासनहीनता आती है। रूम में पीने के पानी और घड़ी को पूर्व दिशा या उत्तर दिशा में रखना या लगनी चाहिए। वहीं उन बच्चों के रूम में माता-पिता को मोर पंख लगा देना चाहिए, जिनका मन पढ़ाई में ठीक से नहीं लगता है।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment