खिली धूप से प्रतिरोधक क्षमता बढ़ने के साथ दूर होता है अवसाद - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Saturday, November 14, 2020

खिली धूप से प्रतिरोधक क्षमता बढ़ने के साथ दूर होता है अवसाद

 

वाराणसी। सूरज से दूरी बनाना आपके स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक है। घर में एकांतवास करना सेहत के लिए परेशानी का कारण बन सकता है। यह बातें मुलाकात के दौरान डाॅ. अरिवन्द सिंह ने कही। उन्होंने बताया कोरोना काल में घरों से नहीं निकलने की चेतावनी बार-बार जारी होती रही है। जरूरी काम हो तभी घर से बाहर निकलें। ऐसे मेें बहुत से लोगों को घरों से बाहर निकलना कम हो गया। धूप के सम्पर्क नहीं आने से त्वचा को मिलने वाला पोषक तत्व नहीं मिल पाता है। सूरज की किरणों से विटामिन डी मिलता है। शरीर में विटामिन डी की कमी से थकान, मांसपेशियों में कमजोरी, जोड़ों में दर्द की समस्या बढ़ जाती है। व्यक्ति धीरे-धीरे अवसाद में आने लगता है। विटामिन डी की कमी से हड्डियों में दर्द बढ़ने लगता है। कैल्शियम की मात्रा शरीर में घटने लगती है।


सूरज की किरणें जहां एक ओर व्यक्ति को विटामिन डी देती हैं, वहीं दूसरी ओर रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ती हैं। रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होने से संक्रमण की सम्भावना से व्यक्ति बच जाता है।प्रसन्नता के साथ अच्छे मुड के लिए धूप जरूरी है। खिली धूप में बैठने, रहने से शरीर में प्रसन्नता का संचार होता है। धूप में नहीं जाने से अवसार के लक्षण दिखने लगते हैं। अवसाद से बचना है तो धूप में जाना होगा। पूरी नींद लेने और आराम के बाद व्यक्ति के शरीर में यदि थकान है तो उसमें विटामिन डी की कमी है। विटामिन डी की कमी को सूरज की धूप से ही पूरा किया जा सकता है।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment