उधर बिहार में चुनाव है, इधर गठबंधन में दरार है, घुसपैठियों के बहाने दोनों ने खुद ही खोल दी पोल - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

05 November 2020

उधर बिहार में चुनाव है, इधर गठबंधन में दरार है, घुसपैठियों के बहाने दोनों ने खुद ही खोल दी पोल


बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar assembly election) के तीसरे चरण से पहले प्रचार के दौरान गठबंधन में दरार की पोल खुल गई। एक तरफ जहां मुख्यमंत्री नीतीश कुमार घुसपैठियों को शरण देने की बात कह कर अल्पसंख्यक मतदाताओं को रिझाने की कोशिश में जुटे हैं तो वहीं सीएम योगी घुसपैठियों को देश से बाहर करने की प्रतिबद्धता दिखा रहे हैं। ऐसे में दोनों ही सियासी सूरमाओं के बयानों के बीच दिखती खाई में गठबंधन का दरार नजर आ रहा है। बता दें कि बिहार में तीसरे चरण के चुनाव प्रचार के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने किशनगंज में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि किसी में भी इतना दम नहीं है कि वो हमारे लोगों को देश से बाहर कर दें तो कुछ दूर पर चुनावी जनसभा को संबोधित कर रहे सीएम योगी ने सभी घुसपाैठियों को देश से बाहर करने की बात कही। 

यहां पर हम आपको बताते चले कि जिस इलाके में नीतीश कुमार ने जनसभा को संबोधित किया है, वहां पर मुस्लिमों की आबादी अच्छी खासी संख्या में है और बीते दिनों जिस तरह से सीएए और एनआरसी को लेकर विरोधी दलों ने अपनी सियासी रोटियां सेंकने का काम किया है। उससे  तो यह साफ जाहिर था कि इस मसले का दबदबा बिहार चुनाव में भी देखने को मिलेगा, लेकिन  बीते दिनों काफी दिनों से सियासी गलियों से ओझल हो चुका यह मुद्दा न जाने कैसे सीएम योगी सहित नीतीश कुमार के मुख से निकल गया।

इसके साथ ही उन्होंने अल्पसंख्यक समुदाय के लिए अपनी सरकार द्वारा उठाए गए मुद्दे का भी  जिक्र किया। उन्होंने कहा कि सभी को साथ लेकर चलना ही हमारा मकसद है। उन्होंने भाषण के एक अंश का वीडियो क्लिप साझा करते हुए ट्वीट किया है, “सब को साथ ले कर चलना ही हमारा धर्म है.. यही हमारी संस्कृति है.. सब साथ चलेंगे तो बिहार आगे बढ़ेगा..” 

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें। 

देखिए वीडियो में क्या कह रहे सीएम नीतीश कुमार

No comments:

Post a Comment