‘हम न उनके विमान अपग्रेड करेंगे और न ही उन्हें हमारे दिए विमानों के पास भटकने देंगे’,फ्रांस का पाकिस्तान को झटका - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

21 November 2020

‘हम न उनके विमान अपग्रेड करेंगे और न ही उन्हें हमारे दिए विमानों के पास भटकने देंगे’,फ्रांस का पाकिस्तान को झटका


इमरान खान के “नए पाकिस्तान” को जब तक लताड़ नहीं मिलती तब तक दिन ही नहीं गुजरता। नए मामले में फ्रांस ने इमरान खान को झटका दिया है। इमरान खान के साथ टकराव के बीच, फ्रांस ने मिराज फाइटर जेट्स, एयर डिफेंस सिस्टम और अगस्ता 90 बी क्लास पनडुब्बियों के बेड़े को अपग्रेड न करने का फैसला किया है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा फ्रांस के राष्ट्रपति Macron पर टिप्पणी के बाद फ्रांस ने यह कड़ा कदम उठाते हुए पाकिस्तान को बड़ा झटका दिया है। इतना ही नहीं फ्रांस ने अपने विमानों के खरीदार देश को पाकिस्तानी मूल के तकनीशियनों को विमान से दूर रखने की चेतावनी भी दी है।

दरअसल, सैमुअल पैटी नामक शिक्षक की हत्या के बाद फ्रांस के राष्ट्रपति Macron ने इस्लामिक कट्टरवाद के खिलाफ मुहिम छेड़ दी थी जिसके बाद इमरान खान ने ट्वीट करते हुए इसे इस्लामोफोबिया करार दिया था। अब फ्रांस ने पाकिस्तान की पेंच टाइट करते हुए मिराज फाइटर जेट्स, एयर डिफेंस सिस्टम और Agosta 90 बी क्लास पनडुब्बियों के बेड़े को अपग्रेड करने न करने का फैसला किया है।
मिराज 3 और मिराज 5 फाइटर जेट को अपग्रेड नहीं करने के फ्रांसीसी सरकार के फैसले से पाकिस्तान की वायु सेना पर गंभीर असर पड़ सकता है। पाकिस्तानी वायु सेना के पास फ्रांसीसी फर्म दसॉल्ट एविएशन द्वारा निर्मित लगभग 150 मिराज फाइटर जेट हैं जिसमें से केवल आधे ही सर्विस करने योग्य हैं।

पाकिस्तान दशकों से मिराज जेट खरीद रहा था, तथा उन्हें दोबारा बनवा कर उनका इस्तेमाल करता है। नई दिल्ली और पेरिस के राजनयिकों ने हिंदुस्तान टाइम्स को बताया कि पाकिस्तान ने हाल ही में लड़ाकू विमानों के अपग्रेड के लिए फ्रांस से अनुरोध किया था जिसे अस्वीकार कर दिया गया है। इसी तरह के अपग्रेड का अनुरोध French-Italian एयर डिफेंस सिस्टम और Agosta 90B submarines के लिए भी आया था जिसे ठुकरा दिया गया है।

यही नहीं रिपोर्ट के अनुसार फ्रांस ने भारत की चिंताओं पर संज्ञान लेते हुए अपने राफेल विमान के खरीदार देशों जैसे क़तर को फ्रांस ने निर्यात नियंत्रण व्यवस्था के तहत पाकिस्तानी मूल के टेक्नीशियन को विमान से दूर रखने को कहा है। फ्रांस ने कतर से कहा है कि वह पाक मूल के टेक्नीशियनों को राफेल विमान के ऊपर काम न करने दे क्योंकि वे फाइटर जेट्स के बारे में तकनीकी जानकारी लीक कर सकते हैं।

भारत ने पाकिस्तान की बढ़ती हरकतों को देखते हुए इस बात को फ्रांस के साथ भी उठाया था। भारत के पास भी अब राफेल है और इसकी जानकारी लीक होने की स्थिति में नुकसान उठाना पड़ सकता था। यही नहीं पाकिस्तान ने पहले भी चीन के साथ महत्वपूर्ण रक्षा डेटा के बारे में भी जानकारी साझा की है।

फ्रांस ने विदेश सचिव हर्ष श्रृंगला को उनकी फ्रांस यात्रा के दौरान इस निर्णय के बारे में जानकारी दी। फ्रांस ने विदेश सचिव को यह भी आश्वासन दिया कि वह अपने सहयोगी की सुरक्षा के लिए बहुत संवेदनशील है।

बता दें कि कुछ महीनों पहले जर्मनी ने भी पाकिस्तान के पनडुब्बी के लिए AIP यानि Air Independent Propulsion System का अपग्रेड देने से माना कर दिया था।

जब से फ्रांस में समुअल पैट्टी की हत्या हुई है तब से मैक्रों ने इस्लामिक कट्टरवाद के खिलाफ मोर्चा खोला हुआ है। इसी के मद्देनजर पाकिस्तान ने तुर्की के साथ मिलकर उनकी आलोचना और फ्रेंच वस्तुओं का बहिष्कार का आह्वान भी कर दिया था, जबकि अन्य इस्लामिक देश जैसे सऊदी अरब और UAE ने चुप्पी साध रखी थी। परंतु फ्रांस ने पलटवार करते हुए इस आतंकी देश के विमानों को अपग्रेड करने से ही मना कर दिया है तथा पाकिस्तानियों को अपने देश में बने विमानों के आस पास जाने पर भी रोक लगा दी है। इस कार्रवाई से फ्रांस ने स्पष्ट कर दिया है कि यह इस्लामिक देशों पर दबाव के आगे नहीं झुकेगा।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment