स्टेशन तोड़कर मेट्रो निकलने वाली थी बाहर, मछली की ‘पूंछ’ से रुक गया बड़ा Accident - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

06 November 2020

स्टेशन तोड़कर मेट्रो निकलने वाली थी बाहर, मछली की ‘पूंछ’ से रुक गया बड़ा Accident

 

स्टेशन तोड़कर मेट्रो निकलने वाली थी बाहर, मछली की ‘पूंछ’ से रुक गया बड़ा Accident

मेट्रो में सफर करना कितना सुरक्षित लगता है, लेकिन कई बार कुछ ऐसे हादसे हो जाते हैं जिनकी कल्‍पना भी नहीं की जा सकती । बहरहाल, ये हादसा हुआ है नीदरलैंड के शहर रोटेरडैम में । जहां एक मेट्रो रेल दुर्घटनाग्रस्त होने से ऐसे बची कि लोग हैरान हो गए । घटना की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो गई है, इन तस्‍वीरों को देखकर लोग बाल-बाल बचने की कहावत को बखूबी समझ गए हैं ।

कैसे हुआ हादसा ?
दरअसल घटना रोटेरडैम शहर की है, जो यहां मेट्रो का आखिरी स्टॉप था । ये पानी के ऊपर बना हुआ है । चूंकि स्टेशन पानी के ऊपर था, इसीलिए लाइन खत्‍म होने की जगह पर सौंदर्यता बढ़ाने के लिए ‘व्हेल’ मछली की पूंछ के आकार में दो स्‍तंभ वहां बना दिए गए । बस उन्‍हीं की वजह से मेट्रो को जमीन पर गिरने से बचा लिया, और बड़ा हादसा होने से बच गया ।

हवा में लटकी मेट्रो
घटना की जानकारी स्थानीय पुलिस को मिलते ही बचाव दल की टीमें वहां पहुंची । स्‍थानीय फोटोग्रसफर और एक ब्‍लॉगर ने इस घटना की तस्‍वीरें कैद कर, सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया । मेट्रो जमीन से 10 मीटर ऊपर हवा में लटकी थी। इस हादसे में ट्रेन की तस्‍वीरें बता रही हैं कि अंडरकैरेज कितनी बुरी तरह से क्षतिग्रस्‍त हुआ है । ट्रेन की कुछ खिड़कियां भी टूट गईं।

नहीं हुआ कोई घायल
राहत की बात ये रही कि यह हादसा सोमवार सुबह में हुआ, उस दौरान ट्रेन में कोई पैसेंजर नहीं था। ट्रेन किसी वजह से फाइनल स्टॉप पर नहीं रुक पाई और बैरियरों को तोड़ते हुए ‘व्हेल’ की पूंछ पर जा अटकी । ड्राइवर खुद ही ट्रेन से किसी तरह बाहर निकल आया। हादसे में किसी को कोई चोट नहीं आई है । साल 2002 में इस व्‍हेल की पूंछ को यहां लगाया गया था । हादसा क्यों और कैसे हुआ इसकी जांच चल रही हैं ।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment