पति के साथ मिलकर मां करती थी बेटियों का यौन शोषण, 723 साल की मिली सजा - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Tuesday, November 3, 2020

पति के साथ मिलकर मां करती थी बेटियों का यौन शोषण, 723 साल की मिली सजा

lisa-marie-lesher sentenced to 723 years

यौन शोषण के मामले दिन-प्रतिदिन बढ़ते ही जा रहे हैं. देश-दुनिया से ऐसी कई खौफनाक घटनाएं सामने आई हैं जो ना सिर्फ हैरान करती हैं बल्कि डराती हैं. हाल ही में एक मामला का खुलासा हुआ है जहां एक मां ही अपने बेटियों के साथ रेप-टॉर्चर करती थी. जब पूरा मामला खुला तो महिला को अपनी बेटी और अपनी सौतेली बेटी के साथ यौन शोषण के आरोप पूरे 723 साल की सजा सुनाई गई. वहीं महिला के पति को 438 सालों की सजा मिली है.

पूरा मामला अमेरिका का है. जहां लिजा अपने पति माइकल लेशर के साथ बेटियों के साथ यौन शोषण करती थी. लिजा मैरी लेशर की उम्र 42 साल है और 2 नवंबर को ही उसेlisa-marie-lesher723 सालों की कैद की सजा सुनाई गई. अमेरिकी कानून के हिसाब से ऐसे केसों में यही अधिकतम सजा होती है और इस केस पर जज स्टीफन ब्राउन ने फैसला सुनाया है.

रिपोर्ट्स की मानें तो, लिजा ने कई सालों तक अपने पति के साथ मिलकर सगी व सौतेली बेटी का यौन शोषण किया. लिजा पर रेप, सोडोमी और सेक्शुएल टॉर्चर जैसे गंभीर आरोप लगे हैं. सबसे पहले साल 2007 में केस रिपोर्ट किया गया था. पर जब पीड़ितों ने अनुरोध किया तो दोबारा से मामला खुला.Sexual abuseइस केस पर बताया जाता है कि पीड़िताओं ने कई सालों तक ऐसे राक्षसों के साथ जीवन बिताया जहां उनका हर दिन नर्क के समान था. क्योंकि इन पीड़िताओं के साथ गलत काम करने वाला कोई बाहरी व्यक्ति नहीं बल्कि उनके माता-पिता ही थे.

बेटियों के साथ ऐसा घिनौना सलूक करने पर जो सजा महिला और उसके पति को सुनाई गई है. उस पर अस्सिटेंट एटॉर्नी कॉर्टनी श्लेक का कहना है ये लोग यही डिजर्व करते हैं और इस मामले पर पीड़िताओं के साथ न्याय हुआ है. क्योंकि इन्होंने एक दशक से ज्यादा इस तरह की तकलीफों के सामना किया. लेकिन अब उन्हें न्याय मिला है.

source

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment