ये क्या बोल गए रामदेव, 10-20 सालों तक मोदी का विकल्प नहीं, राहुल गांधी करें त्रियोग और दिग्विजय.. - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

15 November 2020

ये क्या बोल गए रामदेव, 10-20 सालों तक मोदी का विकल्प नहीं, राहुल गांधी करें त्रियोग और दिग्विजय..

 

ramdev on PM Modi

योगगुर और पंतजलि के सर्वेसर्वा स्वामी रामदेव (Ramdev) अक्सर ही अपने बयानों की वजह से सुर्खियों में रहते हैं और कई बार तो रामदेव के बयान विपक्षी दलों में खलबली मचा देते हैं. वैसे हाल ही में जो बयान रामदेव की तरफ से आया है उससे तो विपक्ष सन्न हो जाएगा क्योंकि रामदेव ने खुला ऐलान करते हुए कहा कि, वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नहीं राष्ट्र के भक्त हैं और पीएम देशभक्त हैं इसलिए वो उनके सहयोगी है और अगले 10-20 सालों तक मोदी का कोई विकल्प नहीं है. इस दौरान रामदेव ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को सुझाव देते हुए कहा कि उन्हें त्रियोग करना चाहिए और पार्टी नेता दिग्विजय सिंह को समाधि मौन योग करना चाहिये.

देश में मोदी फैक्टर
बाबा रामदेव से जब न्यूज 18 के पत्रकार अमिश देवगन ने पूछा कि, क्या वाकई देश में मोदी फैक्टर है तो वह बोले कि देश के करोड़ों लोग मोदी पर विश्वास करते हैं और जो दूसरा नंबर राजनीति व्यक्ति का है वो हजारो किमी दूर है. इसका फासला आसमान और जमीन के जैसा है. करोड़ों लोग जानते हैं कि मोदी कोramdev-big-ptiजो मिला है सब प्रभु की कृपा से मिला है और उन्हें कुछ नहीं चाहिए. मोदी देश नहीं बेच सकता और ना ही मुल्क व लोगों के साथ गद्दारी कर सकता है. मोदी तो एक ऐसे व्यक्ति हैं जिनके लिए सबकुछ सिर्फ अपनी मातृभूमि है उनके लिए अपना कुछ नहीं है. तो ऐसा व्यक्ति ना तो देश तोड़ेगा और ना ही छोड़ेगा.

10-20 सालों में मोदी विकल्प नहीं
रामदेव से जब पत्रकार ने सवाल किया लोकतंत्र में सबसे बड़ा भरोसी इस समय किस व्यक्ति पर है तो वह बोले कि भारतीय राजनीति के आने वाले 10 से 20 सालों में मोदी का कोई विकल्प नहीं और भगवान के विधान से अगर कोई आ जाए तो करेंगे दोबारा चर्चा. इस पर पत्रकार ने रामदेव से कहा कि आप मोदी भक्त हैं तोउन्होंने इस बात को नकारते हुए साफ शब्दों में कहा कि मैं मोदी नहीं बल्कि राष्ट्रभक्त हूं और प्रभु, गांव, गरीब, मजदूर, किसान, दलित, शोषित वंचित पिछड़ों का भक्त हूं, मोदी खुद एक राष्ट्रभक्त हैं इसलिए उनका सहयोगी हूं मगर उनका भक्त नहीं. मैं तो सबको कहता हूं कि अच्छे कामों में सहयोगी बनो, यही वेद का संदेश है, यही कर्म की बात है.

ओबामा की राहुल पर टिप्पणी
पिछले दिनों ही अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने राहुल गांधी पर टिप्प्णी की थी और इस बारे में जब रामदेव से सवाल हुआ तो वह बोले कि ये बात बहुत व्यक्तिगत हो जाती है. लेकिन इतना कहूंगा कि राष्ट्र चलाने के लिए सिर्फ एक खानदान का होना जरूरी नहीं बल्कि उसे देश, भारत, समग्र की समझ होनी चाहिए. उसे हर चीज के बारे में बारीकी से पता होना चाहिए. हर क्षेत्र के बारे में पता होना चाहिए. कई लोग कहते हैं कि कुछ नहीं आता तो राजनीति कर लो लेकिन राष्ट्र चलाना आसान बात नहीं होती.

source

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment