PM मोदी की इन खूबियों के मुरीद हैं CPI नेता कन्हैया कुमार, भाजपा का करते हैं कड़ा विरोध - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

06 October 2020

PM मोदी की इन खूबियों के मुरीद हैं CPI नेता कन्हैया कुमार, भाजपा का करते हैं कड़ा विरोध

 


जवाहर लाल नेहरू (JNU) के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष और कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (CPI) के नेता कन्हैया कुमार (Kanhaiya Kumar) ने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की तारीफ की है। जी हां, वही कन्हैया कुमार जो भारतीय जनता पार्टी (BJP) के कड़े विरोधी हैं, जो कई मौकों पर मोदी सरकार को घेरते नजर आते हैं। हालांकि, कन्हैया ने अब पीएम मोदी की खूबियों को गिनवाया है। कन्हैया कुमार ने अपने हालिया इंटरव्यू में पीएम मोदी की खूबियों और कमियों के बारे में चर्चा की है। तो आइए डालते हैं कन्हैया कुमार की उन पॉइंट्स पर जिन्हें उन्होंने पीएम मोदी के बारे में कहा..

राजनीतिक अनुभव
कन्हैया कुमार ने पीएम मोदी के राजनीतिक अनुभव के बारे में जिक्र किया। उन्होंने तारीफ करते हुए कहा कि पीएम मोदी जमीन से जुड़े हुए राजनेता हैं जिन्हें कोई भी चाहे भी तो उखाड़ कर नहीं फेंक सकता है। पीएम मोदी का राजनीतिक अनुभव ही उनकी शक्ति है। बता दें कि, कम उम्र से ही पीएम मोदी का झुकाव राजनीति की ओर रहा है।

कोई भी बन सकता PM
जब पीएम मोदी सत्ता में आए थे तो स्लोगन काफी वायरल हुआ था कि अब कोई भी पीएम मोदी बन सकता है। ये एक ऐसा मिथक था जिसे किसी ने नहीं तोड़ा और वह पीएम मोदी ने कर दिखाया। पीएम मोदी ने ये साबित कर दिया कि एक साधारण गरीब परिवार का बच्चा भी प्राइम मिनिस्टर की कुर्सी तक पहुंच सकता है। ये बात कन्हैया कुमार को काफी आकर्षित करती है।

पावर गेन, रिटेन, सस्‍टेन और विपक्ष की तारीफ
कन्हैया कुमार ने कहा कि पीएम बनने के बाद मोदी ने पावर को गेन ही नहीं किया बल्कि उसे रिटेन किया और फिर सस्टेन किया जो उन्हें अन्य प्रधानमंत्री से अलग बनाता है। कन्‍हैया ने ये भी माना कि मोदी जी विपक्षियों का खुले मन से मूल्‍यांकन करते हैं और उनकी अच्‍छाइयों को स्‍वीकार करते हैं। उनकी ये खास आदत उन्‍हें विशिष्‍ट बनाती है।

योजनाओं के मुरीद
कन्‍हैया कुमार पीएम मोदी की सभी योजनाओं के कायल हैं। कन्हैया कुमार न केवल पीएम मोदी के योजनाओं पर बात करते हैं बल्कि उसकी घोषणा के दौरान मोदी के द्वारा बोले गए शब्दों के भी कायल हैं। कन्हैया कहते हैं कि जब पीएम मोदी जब योजनाओं की घोषणा करते हैं तो उनके शब्‍दों पर गौर करिये कौन कहेगा कि बेटी नहीं बचाना और पढ़ाना चाहिए। कौन कहेगा कि डिजिटल इंडिया नहीं होना चाहिए या शौचालय नहीं बनने चाहिए।

पीएम मोदी के विरोध का कारण
कन्हैया कुमार ने जहां माना कि वह कई मामलों में उनके मुरीद हैं तो वहीं उन्होंने ये भी स्वीकार किया कि कई मामलों में वह पीएम मोदी के विरोध में भी खड़े रहते हैं। जैसे कि मोदी जी कहते हैं कि मैं स्‍टेशन पर चाय बेचता था। अगर आप स्‍टेशन पर चाय बेचते थे तो स्‍टेशन को ही क्‍यों बेच दिया। आप बेटी बचाओ की बात करते हैं तो कुलदीप सेंगर जैसे लोग आपके यहां क्‍यों हैं।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment