फरिश्ते बनें CRPF कर्मी, किसी को गोद में उठाया तो किसी को हाथ पकड़कर पोलिंग बूथ तक पहुंचाया - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

28 October 2020

फरिश्ते बनें CRPF कर्मी, किसी को गोद में उठाया तो किसी को हाथ पकड़कर पोलिंग बूथ तक पहुंचाया


तीन चरणों में मुकम्मल होने जा रहे बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण का मतदान आज हुआ है। लोकतंत्र के इस महापर्व में मतदाताओं ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया। दोपहर तीन बजे तक 46 फीसद मतदान दर्ज किया गया। चुनाव के दौरान कई घटनाओं ने जमकर सुर्खियां बटोरी। जिसमें नीतीश के मंत्री से भी बड़ी गलती हुई। जिस पर उन्होंने कहा कि हमारी ऐसी कोई मंशा नहीं थी, बल्कि यह तो हमसे गलती से मिस्टेक हो गया। वहीं, मतदान के दौरान सबसे सुखद तस्वीर सीआरपीएफ कर्मियों  की देखने को मिली, जिन्होंने फरिश्ते बनकर इन दिव्यांग सहित बुजुर्ग मतदाताओं का सहारा बनकर उन्हें पोलिंग बूथ तक पहुंचाया।

इस बीच उस पल की तस्वीर बेहद सुखद संकेत दे रही थी, जब असहाय मतदाता भी अपने नुमाइदों की तलाश में पोलिंग बूथ तक जा पहुंचे तो सीआरपीएफ कर्मी  उनका सहारा बने। उन्हें सहारा देकर पोलिंग बूथ तक पहुंचाया। इस दौरान जब ऐसे मतदाताओं को कठिनाइयों का सामना करना पड़ता, तो यह सीआरपीएफ कर्मी इनकी खिदमत के लिए झट से हाजिर हो जाते। इस दौरान कभी सीआरपीएफ कर्मियों ने दिव्यांग मतदाताओं को गोद में  उठाया तो कभी तो कभी किसी मतदाताओं को व्हीलचेयर पर बैठाकर ले गए, ताकि उन्हें किसी प्रकार की समस्याओं का सामना न करना पड़े और ये लोग बढ़कर हिस्सा ले सके।

वहीं, सीआरपीएफ कर्मी अन्य मतदाता, जो कतार में खड़े होकर मतदान करने के बाट जोह रहे थे, उन्हें भी हमारे जावन नियंत्रित करते हुए नजर आ रहे थे। किसी भी अप्रिय परिस्थिति का सामना करने हेतु सुरक्षा-व्यवस्था को दुरूस्त रखा गया, ताकि किसी-भी प्रकार की अप्रिय परिस्थिति का सामना किया जा सके। सीआरपीएफ  कर्मियों द्वारा किए गए इन कार्यों की तस्वीर सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही है। लोग इसकी जमकर प्रशंसा करते हुए नजर आ रहे हैं। इस संदर्भ में टिप्पणी कर रहे हैं। 

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment