कमलनाथ के ‘आइटम’ पर मायावती खफा तो मौन धरने पर बैठे CM शिवराज - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

19 October 2020

कमलनाथ के ‘आइटम’ पर मायावती खफा तो मौन धरने पर बैठे CM शिवराज

 

नई दिल्ली। एक दौर था जब नेता वसूलों की राजनीति करते थे, शायद यही वजह है कि वह आज भी पूजे जाते हैं। नेतागीरी चमकाने के लिए लोग दिखावटी ही सही पं. दीनदयाल, डॉ. राममनोहर लोहिया, जनेश्वर मिश्र, जयप्रकाश नारायण आदि नेताओं का अनुसरण करते हैं। लेकिन विडंबना है कि राजनीति में अपराधियों के पदार्पण के बाद सभी तरह के शिष्टाचार हाशिए पर चले गए। अधिकत्तर नेताओं का चारित्रिक पतन पहले हो चुका है और अब बदजुबानी की भी होड़ लग गई है। हैरत की बात यह है कि छोटे स्तर का नेता जब बदजुबानी करता है तो उसकी शिकायत पार्टी के हाईकमान को की जाती थी। लेकिन पूर्व मुख्यमंत्री के स्तर का नेता जब महिला पर अभद्र टिप्पणी करेगा तो उसकी शिकायत किससे की जाए और ऐसे नेताओं से उम्मीद भी क्या की जाए?

मध्यप्रदेश में उपचुनाव के लिए अपने पार्टी के उम्मीदवार के पक्ष में चुनाव प्रचार के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भाजपा की महिला प्रत्याशी के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करते हुए ‘आइटम’ बता डाला। हैरत की बात यह है कि जिस महिला के बारे में अभद्र टिप्पणी कर रहे हैं वह बीते दिनों कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हैं। कमालनाथ के इस बयान के बात राजनीति गरमा गई है। बसपा प्रमुख उनके इस बयान की निंदा करते हुए कहा कि उनका यह बयान बेहद ही निंदनीय है। कांग्रेस आलाकमान इसके लिए माफी मांगे। वहीं बयान को महिला विरोधी और उसकी स्मिता पर हमला बताते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मौन व्रत रखते हुए धरने पर बैठ गए हैं।

ज्ञात हो कि राज्य की 28 विधानसभा सीटों पर तीन नवंबर को उपचुनाव होना है। भाजपा प्रत्याशी इमरती देवी के खिलाफ डबरा विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रहे कांग्रेस प्रत्याशी सुरेश राजे के लिए चुनाव प्रचार के दौरान कमलनाथ ने कहा कि डबरा से सुरेश राजे जी हमारे उम्मीदवार हैं। सरल स्वभाव के, सीधे-सादे व्यक्ति हैं। ये उसके जैसे नहीं हैं। क्या है उसका नाम? इसी दौरान वहां मौजूद भीड़ जोर-जोर से ‘इमरती देवी’, ‘इमरती देवी’ चिल्लाने लगती है। इसके बाद कमलनाथ ने मुस्कराते हुए कहा कि मैं क्या उसका नाम लूं। आप लोग तो उसको मेरे से ज्यादा जानते हैं। आप लोगों को मुझे पहले ही सावधान कर देना चाहिए था। ये क्या आइटम है? ये क्या आइटम है?

उनके इस बयान पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ पर पलटवार करते हुए कहा कि एक महिला के प्रति ‘आइटम’ जैसे शब्द का उपयोग कर कमलनाथ ने अपनी सामंतवादी सोच फिर उजागर किया है।

चौहान ने ट्वीट करते हुए लिखा, कमलनाथ जी! इमरती देवी उस गरीब किसान की बेटी का नाम है जिसने गांव में मजदूरी करने के साथ ही राजनीति की शुरुआत की और आज जनसेवक के तौर में राष्ट्रनिर्माण में अपना सहयोग दे रही हैं। पहले कांग्रेस ने मुझे ‘भूखा-नंगा’ कहा और एक महिला के लिए ‘आइटम’ जैसे शब्द का उपयोग कर अपनी सामंतवादी सोच को फिर प्रदर्शित किया है। वहीं इमरती देवी ने भी पलटवार करते हुए कहा कि मैं गरीब परिवार से हूं, इसमें मेरी क्या गलती है।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment