“राम विलास पासवान के असली वारिस नहीं है चिराग पासवान” - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

27 October 2020

“राम विलास पासवान के असली वारिस नहीं है चिराग पासवान”

 

भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश है. जहां पर भले ही कुछ परिवार खुद को राजा समझते हों लेकिन उन्हें राजा बनाने के पीछे जनता का हाथ होता है. तो वहीं किसी राजा की गद्दी हासिल करने के लिए कई बार लोगों को अपनों के साथ ही गन्दी राजनीति करने पर मजबूर कर देती है. एक कहावत है कि एक  राजनेता अपने सगों का भी सगा नहीं होता. ये कहावत आज सच होती नज़र आ रही है. अपने आप को बिहार का मुख्यमंत्री के रूप में प्रस्तुत करने वाले और लोक जनशक्ति पार्टी के सुप्रीमो चिराग पासवान को शक के कठघड़े में खड़े होते नजर आ रहें हैं.

बता दें, कि एलजेपी के संस्थापक और दिवंगत नेता रामविलास पासवान के दामाद साधु पासवान ने चिराग पासवान के खिलाफत करते हुए उनकी पोल खोल दी है. साधु पासवान ने चिराग के राम विलास पासवान के वारिस होने पर भी सवाल खड़े कर दिए हैं. आइये अब आपको बताते हैं की पूरा मामला क्या है.

साधु पासवान के इस आरोप के बाद अब सियासी गलियारे में बवाल मच गया है. साधु पासवान ने दिवंगत नेता रामविलास पासवान के तलाक को फर्जी करार देते हुए कहा है कि चिराग पूर्व केंद्रीय मंत्री के वारिस नहीं हैं. साधु पासवान ने बड़ा आरोप लगाते हुए कहा है, ‘रामविलास पासवान की असली वारिस मेरी पत्नी आशा पासवान और मेरी सास राजकुमारी देवी हैं. चिराग पासवान नकली वारिस हैं. रामविलास पासवान का कोई तलाक नही हुआ है. राजकुमारी देवी ही उनकी पत्नी हैं. मैं रामविलास पासवान के तलाक मामले की जांच की मांग करता हूं. सच क्या है सबके सामने आ जाएगा.’

उन्होंने कहा, ‘रामविलास पासवान अभी 10 साल और जिंदा रहते. लेकिन अचानक चले गए. उनकी मृत्यु के पीछे कुछ न कुछ साजिश जरूर है. हमें उनसे मिलने नहीं दिया गया. उनके आखिर समय में भी उनका चेहरा हमें देखने नहीं दिया गया. बता दें कि जब रामविलास की मृत्यु हुई थी तो उनके दामाद और बेटी को उनसे मिलने के लिए एयरपोर्ट के अंदर तक जाने नहीं दिया गया था. आज रामविलास पासवान की मृत्यु को मुद्दा बना कर चुना लड़ने का प्रयास किया जा रहा है. रामविलास की मौत के जरिये सहानुभूति वोट इकट्ठा करने की साजिश रची जा रही है.

‘साधु पासवान ने आगे कहा, ‘चिराग कहते हैं कि वो पीएम नरेंद्र मोदी के हनुमान हैं. सीना चीरने पर नरेंद्र मोदी दिखेंगे. चिराग पासवान के सीने में पिता रामविलास की तस्वीर की बजाय नरेंद्र मोदी की तस्वीर है. इससे बड़ा मजाक क्या हो सकता है. एक बेटे के दिल पिता की जगह दूसरे की तस्वीर कैसे हो सकती है. मेरे दिल मे रामविलास पासवान की भी तस्वीर है और बाबा साहेब की भी तस्वीर.’

साधु पासवान ने चिराग पर बड़ा हमला करते हुए कहा कि दलितों की राजनीति करने वाले चिराग दलित आरक्षण खत्म करने की बात करते हैं. चिराग बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट की बात करते हैं. लेकिन चिराग बिहार में रहते कहां हैं. चिराग साइबेरियन पक्षी हैं. चुनाव के वक्त ही बिहार आते हैं. मैं पासवान समाज से अपील करूंगा कि चिराग के झांसे में ना आएं. चिराग आपके नहीं हो सकते, वो दिल्ली निवासी हैं.

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment