स्कर्ट पहने इस आदमी की सच्चाई जानकर चौंक जाएंगे आप… - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

24 October 2020

स्कर्ट पहने इस आदमी की सच्चाई जानकर चौंक जाएंगे आप…


अक्सर हम लोगों का चरित्र और स्वभाव उनके पहनावे को देखकर अंदाज़ा लगते हैं कि वो किस प्रकार का इंसान है. अगर वो शर्ट-पैंट पहना है तो पुरुष और अगर सलवार सूट पहना है तो महिला. लेकिन फिर भी हम कहते हैं कि आज के इस दौर में महिला और पुरुष एक समान हैं. लेकिन अगर ऐसा है तो वस्त्रों के मामले में ये भेदभाव क्यों. इस दुनिया में ऐसे बहुत से लोग हैं. जो दुनिया की हर सोच को चुनौती देने को तैयार रहते हैं. आज हम आपको एक ऐसे ही व्यक्ति के बारे में बताने जा रहे हैं. जिसने अपने अतरंगी पहनावे से लिंग के भेदभाव वाली सोच को चुनौती देते हुए दुनिया भर में अपना नाम किया है.

हम बात कर रहे हैं जर्मनी के रहने वाले मार्क (MARK BRYAN) की जो दुनिया भर में अपने पहनावे की वजह से जाने जाते है. उनके पहनावे को देखके ये बताना मुश्किल है, कि वो पुरुष है या समलैंगिक पर आप चौकिये मत क्योंकि वो शत प्रतिशत पुरुष हैं और अपनी बीवी और तीन बच्चो के साथ सुखी जीवन व्यतीत कर रहें हैं. लेकिन उनके इस अतरंगी पहनावे को देखते हुए अक्सर लोगों का उनसे ये सवाल रहता है, कि वो इतने सालों से ऐसे कपड़ें क्यों पहनते हैं.  तो आपको बता दें, कि वो कपड़ों को लेकर समाज में जेंडर इक्वलिटी की सोच को लाना चाहते हैं. इसलिए ही मार्क पिछले 4 साल से स्कर्ट,शर्ट और हाई हील्स पहन कर ही ऑफिस जाते हैं.

आपको बता दें, कि 61 वर्ष के मार्क जर्मनी में रोबोटिक्स इंजीनियर हैं. इनके पहनावे को देखके चौंकिए मत क्योंकि मार्क इस तरह की वेशभूषा पिछले 4 साल से पहन रहे हैं. उनके इस पहनावे को देखकर अक्सर लोग उन्हें गे समझते हैं. लेकिन उनकी ये अवधारणा सरासर गलत है. क्योंकि वो गे नहीं स्ट्रेट हैं और अपनी बीवी और 3 बच्चों के साथ खुशी जीवन बीता रहें हैं.

.लेकिन जब भी लोग उनके इस अतरंगी पहनावे को देख तरह-तरह के सवाल पूंछते हैं. तो उन्हें बड़ा ग़ुस्सा आता है.  वे कहते हैं कि ये उनकी व्यक्तिगत पसंद है और हर इंसान का हक़ होता है कि वो अपने मन मुताबिक कपड़े पहन सके.

वो कहते हैं, कि समाज में कपड़ों को लेकर एक मेंटालिटी बानी हुई है. अगर कोई पैंट-शर्ट यान टीशर्ट पहने तो वो मर्द है और कोई सूट-साडी या स्कर्ट पहने तो महिला. मार्क का कहना है कि समाज की यह अवधारणा सरासर गलत है, क्योंकि कपड़ों का कोई जेंडर नहीं होता. व्यक्ति चाहे कोई भी हो वो अपने मन मुताबिक कोई भी कपड़े पहन सकता है. ऐसा नहीं है कि उन्हें मेंस वियर कपडे पसंद नहीं आते लेकिन उन्हें इस तरह के कपडे पहनना पसंद है और उनके इस फैसले पर उनके  बेटे और दो बेटियों को नाज़ है. यहां तक कि उनकी बीवी को भी उनका ड्रेसिंग स्टाइल बेहद पसंद है.

वो हर जगह यही कपड़े पहन के जाते हैं. फिर चाहे वो ऑफिस जा रहे हो यां परिवार के साथ बाहर घूमने. वो अक्सर इन कपड़ों में अपनी सोशल मीडिया साइट्स पर अपनी फोटोज अपलोड करते रहते हैं. वो अपनी उन तस्वीरों को लेकर इंटरनेट पर बहुत फेमस भी है.

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।


No comments:

Post a Comment