श्रीकृष्ण जन्मभूमि विवाद पर औवैसी का भड़काऊ बयान, देखें अब क्या कहा - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

18 October 2020

श्रीकृष्ण जन्मभूमि विवाद पर औवैसी का भड़काऊ बयान, देखें अब क्या कहा

औवेसी

 अयोध्या राम जन्मभूमि विवाद सुलझने के बाद अब श्रीकृष्ण जन्मभूमि भी कोर्ट पहुंच गई। श्रीकृष्ण जन्मभूमि ट्रस्ट ने मथुरा के एक स्थानीय अदालत में याचिका दाखिल की है। जिसमें ट्रस्ट ने पूरी जमीन पर मालिकाना हक मांगा है और मस्जिद हटाने की मांग की है। कोर्ट ने भी इस याचिका को स्वीकार कर लिया है और इस मामले पर 18 नवंबर को अगली सुनवाई होगी। जिसके बाद अब पूरे मामले पर जमकर बयानबाजी हो रही है। इसी कड़ी में अब एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन औवैसी (AIMIM Chief Asaduddin Owaisi) ने भड़काऊ बयान दिया है। औवैसी ने कहा है कि संघ इस पर भी हिंसक मुहिम शुरू करेगी।

कोर्ट द्वारा याचिका के स्वीकार होने के बाद असदुद्दीन ओवैसी ने एक ट्वीट किया। इस ट्वीट में औवेसी ने लिखा, ‘जिस बात से डर था, वही हो रहा है। बाबरी मस्जिद से जुड़े फैसलों की वजह से संघ परिवार के लोगों के इरादे और भी मजबूत हो गए हैं। याद रखिए, अगर आप और हम अभी भी गहरी नींद में रहेंगे तो कुछ साल बाद संघ इस पर भी एक हिंसक मुहिम शुरू करेगी और कांग्रेस भी इस मुहिम का एक अटूट हिस्सा बनेगी।’ इससे पहले भी इस मामले पर औवेसी का एक बयान सामने आया था। इस दौरान उन्होंने ने याचिका पर सवाल उठाया था और कहा था कि विवाद को दोबारा जीवित करने की क्या जरूरत है?

उन्होंने कहा था, ‘प्लेसेज ऑफ वर्शिप एक्ट 1991 के मुताबिक, किसी भी पूजा के स्थल के परिवर्तन पर मनाही है, ऐसा नहीं किया जा सकता। शाही ईदगाह ट्र्रस्ट और श्रीकृष्ण जन्मस्थान सेवा संघ ने इस विवाद का निपटारा साल 1968 में ही कर लिया था। इसे अब फिर से जीवित क्यों किया जा रहा है?’ बता दें कि सुप्रीम कोर्ट का अयोध्या में राम मंदिर के पक्ष में फैसला आने के बाद ही ये मामला तेजी से उठा है। अब मथुरा में कृष्ण जन्मभूमि और वाराणसी में काशी विश्वनाथ मंदिर से सटे मस्जिदों को हटाने के लिए मांग करनी शुरू कर दी है।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment