इश्कबाज दरोगा लड़की को भेजता था अश्लील वीडियो व मैसेज, एसपी ने किया लाइन हाजिर - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

03 October 2020

इश्कबाज दरोगा लड़की को भेजता था अश्लील वीडियो व मैसेज, एसपी ने किया लाइन हाजिर

 

बस्‍ती। महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराधों पर एक तरफ जहां पूरे प्रदेश में आक्रोश व्यप्त है वहीं बस्ती जनपद में एक इश्कबाज दरोगा का बेशर्म चेहरा सामने आया है। दरोगा ने अपनी हरकतों से न केवल वर्दी को शर्मसार किया है बल्कि एक लड़की को परेशान करके रख दिया है। ऐसे में सवाल यह उठता है कि जिम्मेदार पदों पर बैठे लोग जब ऐसी हरकतें करेंगे तो लोगों को इंसाफ कैसे मिलेगा। सोनूपार चौकी इंचार्ज दीपक सिंह ने क्षेत्र की रहने वाली एक लड़की को अश्लील मैसेज व वीडियो भेजकर परेशान करता था। विरोध करने पर फर्जी मुकदमे में फंसाने की धमकी दे रहा था। चौकी इंचार्ज की इस हरकत से परेशान होकर लड़की ने भेजे गए मैसेज का स्क्रीन शाट लेकर आईजी रेंज से दरोगा की शिकायत की। इसके बाद एएसपी ने मामले की जांच शुरू कर दी है। शुरुआती जांच में सामने आए तथ्यों की सत्यता को देखते हुए एसपी हेमराज मीणा ने दरोगा को लाइन हाजिर कर दिया है।

जानकारी के मुताबिक सोनूपार पुलिस क्षेत्र की रहने वाली लड़की कुछ महीने पहले अपने बुआ के लड़के के साथ दवा लेने जा रही थी। इसी दौरान तत्कालीन सोनूपार चौकी इंचार्ज ने चेकिंग के बहाने उसकी बाइक रोक ली। बुआ के लड़के को काफी देर तक चौकी पर बैठाए रखा। इसके बाद उन्होंने लड़की का मोबाइल नंबर लेकर दोनों को छोड़ा। लड़की के मुताबिक दरोगा ने उसी दिन शाम से फोन कर अश्लील बात करने लगा। लड़की ने इसका विरोध करने के साथ उसका नंबर ब्लॉक कर दिया। दरोगा इसके बाद व्हाट्सअप पर अश्लील मैसेज भेजने लगा। इस पर लड़की ने व्हाट्सअप पर भी उसका नंबर ब्लॉक कर दिया। लड़की के अनुसार कुछ दिन बाद फिर वह दवा लेने जा रही थी, तभी दरोगा ने चौकी पर उसे रोक लिया और धमकाते हुए कहा कि अगर मेरी बात नहीं मानोगी तो तुम्हारे घरवालों को फर्जी मुकदमे में फंसाकर बर्बाद कर दूंगा। आरोप है कि तत्कालीन चौकी प्रभारी सोनूपार ने गांव के कुछ लोगों के साथ मिलकर लड़की के घरवालों पर एक-एक करके चार फर्जी मुकदमे भी दर्ज करा दिए।

युवती ने परिवार को खतरा बताते हुए आईजी रेंज अनिल कुमार को व्हाट्सअप मैसेज का स्क्रीन शॉट, फोन पर बातचीत की रिकार्डिंग व दरोगा की ओर से भेजे गए वीडियो क्लिप सौंपकर कार्रवाई की मांग की है। आईजी के आदेश पर एएसपी रवीन्द्र कुमार सिंह ने मामले की जांच शुरू कर दी है और शुक्रवार को युवती के बयान को एएसपी कार्यालय पर दर्ज कराया गया। मौजूदा समय में आरोपी दरोगा हाइवे से सटी एक चौकी का प्रभारी है, वहीं उसे संरक्षण दे रहा उसका सगा भाई भी सदर सर्किल की एक पुलिस चौकी का प्रभारी है।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment