विनोद खन्ना का एक गलत कदम और खत्म हो गया सब, न बची शोहरत, न बचा पैसा - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

17 October 2020

विनोद खन्ना का एक गलत कदम और खत्म हो गया सब, न बची शोहरत, न बचा पैसा

 

विनोद खन्ना (Vinod Khanna) बॉलीवुड के सुपरस्टार कहे जाते थें। उनकी डैशिंग पर्सानिलिटी देख अच्छे अच्छे एक्टर के पसीने छूट जाते थे। वह अपने समय में अपनी हैंडसम पर्सानिलिटी के लिए ही जाने जाते थे। अमिताभ बच्चन से लेकर शत्रुघ्न सिन्हा तक विनोद खन्ना के पीछे आ गए थे जिसकी वजह से उनके अंदर इनसिक्योरिटी की भावना जाग गई थी। विनोद खन्ना को अपनी पहली फिल्म से ही सफलता मिल गई थी और उसके बाद तो उनके आगे फिल्मों की लाइन ही लग गई। हालांकि, एक वक्त ऐसा आया कि विनोद खन्ना ने जल्दबाजी में कदम उठा लिया और उसके बाद उनकी जिंदगी में इतने बदलाव हुए कि न बीवी रही, न शोहरत और न पैसा। सब हाथ से चला गया था।

जब विनोद खन्ना बॉलीवुड के टॉप के एक्टर थे तो उस वक्त उन्होंने ऐसा फैसला कर लिया जिसने उनका करियर खत्म कर दिया। दरअसल, साल 1982 का वक्त था और उन्होंने अचानक एक प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में विनोद खन्ना ने ऐसा ऐलान किया जिसने सब बदल कर रख दिया।
vinod khanna
विनोद खन्ना ने ऐलान करते हुए कहा कि वह फिल्म जगत को अलविदा कह दिया। यही नहीं, विनोद खन्ना ने न केवल फिल्म इंडस्ट्री छोड़ी, बल्कि उन्होंने अपनी सारी दौलत शोहरत को भी छोड़ने का ऐलान किया।

विनोद खन्ना ने ये सब इसलिए किया क्योंकि उन पर आध्यात्म का भूत सवार हो गया था। विनोद सब छोड़कर आध्यात्मिक गुरु आचार्य रजनीश के पास अमेरिका चले गए और उनके आश्रम में विनोद खन्ना सादा जीवन व्यतीत करने लगे। हालांकि, बात यहीं खत्म नहीं होती है।
vinod khanna
करीब 5 साल बाद विनोद को एहसास होता है कि वह सामाजिक दुनिया में जाना जाते हैं और उन्होंने वापस भारत आने का फैसला किया, लेकिन इस बार जब वह वापस आए तो सबकुछ बदल चुका था।

विनोद खन्ना के पास न ही शोहरत पैसा बचा था और न ही उनकी बीवी। अमेरिका जाने के बाद विनोद खन्ना की कॉलेज फ्रेंड गीतांजली जो उनकी पत्नी थी, उन्होंने दूरी बना ली। कहा जाता है कि जब विनोद अमेरिका से वापस आए थे तब वह आर्थिक रूप से इतने कमजोर थे कि उन्हें ऑटो से सफर करना पड़ा था।
vinod khanna
वह ऑटो से निर्माता निर्दैशकों के चक्कर लगाते थे। इस मुश्किल घड़ी में उनका साथ महेश भट्ट और मुकेश भट्ट ने दिया था,जिसके बाद उन्हें कुछ फिल्में मिली थी।

इसी बीच, विनोद खन्ना का दिल मशहूर बिजनेसमैन सरयू दफ्तरी की बेटी कविता दफ्तरी पर आ गया। दोनों के बीच नजदीकियां बढ़ी और कुछ समय डेट करने के बाद 1990 को दोनों ने शादी कर ली।
vinod wife
कविता से विनोद को दो बच्चें भी हुए। कविता विनोद खन्ना से 16 साल छोटी थी। ऐसे में जब ये खबरें फैली तो लोग हैरान रह गए थे।


आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment