‘हमराज’ की खूबसूरत एक्ट्रेस ने झेले थे बहुत से दुख, मौत के बाद ठेले पर ले जाकर किया था अंतिम संस्कार - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Friday, October 30, 2020

‘हमराज’ की खूबसूरत एक्ट्रेस ने झेले थे बहुत से दुख, मौत के बाद ठेले पर ले जाकर किया था अंतिम संस्कार

 


कहते हैं कि कई बार कुछ खूबसूरत चीजों का अंत इतना भयावह होता है, जिसके बारे में कल्पना करना भी नामुमकिन सा लगता है. ऐसा ही कुछ बॉलीवुड की खूबसूरत एक्ट्रेस के साथ हुआ. जिनकी खूबसूरती ने उनको रातों-रात स्टार तो बना दिया, लेकिन धीरे-धीरे हालत ने ऐसी स्थितियां पैदा कर दी जिसने उन्हें कहीं का नहीं छोड़ा. हम बात कर रहे हैं बॉलीवुड की फेमस और पॉपुलर फिल्म हमराज (Humraaz) की एक्ट्रेस विमी की, जिन्होंने इसी फिल्म से अपना पहला बॉलीवुड डेब्यू एक्टर सुनील दत्त के अपोजिट किया था. विमी की खूबसूती ने उन्हें बॉलीवुड इंडस्ट्री में एक नया मुकाम दे दिया था. बॉलीवुड में कदम रखने से पहले विमी शादीशुदा थीं, और एक पंजाबी परिवार से ताल्लुक रखती थीं.

कहा जाता है कि विमी ने परिवार के खिलाफ जाकर कलकत्ता के मारवाड़ी व्यवसायी शिव अग्रवाल से शादी की थी. दोनों को एक बेटा और बेटी भी थी लेकिन इससे उनके फिल्मी करियर पर कोई फर्क नहीं पड़ा. एक पार्टी के दौरान संगीतकार रवि ने विमी को देखा और उन्हें मुंबई बुलाकर बी आर चोपड़ा से मिलवाया. विमी को देखने के बाद बीआर चोपड़ा ने भी उन्हें अपनी फिल्म हमराज में एक्ट्रेस के तौर पर कास्ट कर लिया.

उनकी पहली फिल्म ‘हमराज’ हिट साबित हुई, और फिर क्या था, विमी के सामने कई फिल्मों के ऑफर आ गए. यहां तक कि निर्माता-निर्देशक भी विमी को कास्ट करने के लिए उनके घर के चक्कर लगाने लगे.

फिल्म हमराज के बाद विमी ने वचन, पतंगा और आबरू जैसी कई अच्छी फिल्मों में काम किया. लेकिन ये फिल्मे बॉक्स ऑफिस पर कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाईं, जिसके बाद उनका बॉलीवुड में स्ट्रगल शुरू हो गया. इतना ही नहीं अपने करियर को फिर से ऊंचाई पर पहुंचाने के लिए विमी खुद को एक्सपोज करने तक के लिए राजी हो गईं. इस वजह से उनके पति उनसे काफी नाराज हो गए थे और फिर यहीं से दोनों के रिश्ते और रास्ते अलग हो गए.

पति से अलग होने के बाद विमी मुंबई आकर एक प्रोड्युसर के साथ शिफ्ट हो गईं. यहां तक कि दोनों के अफेयर की खबरें भी तेजी से फैलने लगी. लेकिन अचानक से ये रिश्ता भी टूटने की कगार पर खड़ा हो गया और विमी की आर्थिक हालत भी खराब होने लगी थी. जिसके बाद उन्हें शराब की लत लग गई. अंत में जॉली ने भी इन्हें अकेले छोड़ दिया.

काम मिलने की तलाश में विमी दर-दर भटकने लगीं. लेकिन उनकी हालत उस समय काफी खराब हो चुकी थी. कभी शाही अंदाज में जीवन जीने वाली विमी को अपना सब कुछ त्याग करना पड़ा. कहते तो ये भी हैं कि आर्थिक हालत खराब होने के बाद विमी ने खुद को वेश्यावृति की दलदल तक में धकेल दिया था. लेकिन इसके बावजूद भी उनका करियर खत्म हो गया. एक समय ऐसा भी आया जब विमी गुमनामी के अंधेरे में खो गईं. उनके शराब की लत ने उन्हें बीमार कर दिया. यहां तक कि उनका लीवर भी खराब हो गया था.

जिंदगी की आखिरी सांस उन्होंने नानावटी अस्पताल में ली. हालात इतने बिगड़ गए थे कि अस्पताल का बिल भरने के लिए उनके पास पैसे नहीं थे. अंत में आत्मा ने भी उनके शरीर का साथ छोड़ दिया और उनकी मृत्यु हो गई. विमी की मौत 22 अगस्त 1977 को हुई थी. लेकिन उन्हें लेने के लिए कोई नहीं आया. जिसके बाद कहते हैं कि ठेले से ले जाकर किसी ने उनका अंतिम संस्कार कर दिया था. उनके निधन को पूरे 40 साल बीत चुके हैं.

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment